रांची: जिस होटल में रुके लालू यादव के बेटे तेजप्रताप उसपर केस दर्ज, यह है वजह
Ranchi News in Hindi

रांची: जिस होटल में रुके लालू यादव के बेटे तेजप्रताप उसपर केस दर्ज, यह है वजह
तेजप्रताप यादव की फाइल फोटो

अपने पिता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) से मिलने पहुंचे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) जिस होटल में ठहरे उस होटल के खिलाफ कोरोना काल के दौरान नियम उल्लंघन करने का आरोप लगा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 28, 2020, 8:06 AM IST
  • Share this:
रांची. राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (RJD President Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने जेल प्रशासन से विशेष अनुमति लेकर अपने पिता से मुलाकात की. लेकिन यह मुलाकात लालू के बेटे तेज प्रताप के लिए मुश्किल का सबब बन गयी. दरअसल लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप पिता से मिलने के लिए हॉस्पिटल तो गए, लेकिन उन्हें होटल में ठहरना पड़ा. कोरोना काल के दौरान सभी होटल बंद होने के चलते उनके लिए ख़ास तौर पर होटल कैपिटल रेजीडेंसी को खोला गया और सभी व्यवस्थाएं मुहैया कराई गयीं. जिसके बाद होटल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया. बताया जा रहा है कि बिना अनुमति होटल खोलने की वजह से यह केस दर्ज किया गया है.

पहले कोरोना टेस्ट, फिर हुई मुलाकात
तेज प्रताप दोपहर 12.30 बजे करीब लालू से मिलने पहुंच गए पर रिम्स प्रबंधन ने लालू प्रसाद के चिकित्सकों की सलाह पर पहले कोरोना टेस्ट करवाया, और जब रिपोर्ट नेगेटिव आई तो मुलाकात की इजाजत दी. इसके बाद तेजप्रताप का अधीक्षक चैम्बर में जाकर कोरोना जांच के लिए सैम्पल लिया गया, रैपिड एंटीजेन किट से जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही मुलाकात की इजाजत मिली.

एक साथ पिता-पुत्र ने किया भोजन
काफी लंबे अरसे बाद लालू प्रसाद से मिलने उनके बड़े पुत्र तेज प्रताप रांची आये थे. शुरुआती मुलाकात की औपचारिकता के बाद तेज प्रताप और लालू प्रसाद ने एक साथ दोपहर का भोजन किया और उसके बाद दोनों बंगले के दक्षिण वाले कमरे में चले गए. करीब डेढ़ से दो घंटे तक लालू प्रसाद और तेज प्रताप की बंद कमरे में बात हुई. इस दौरान राजद और लालू समर्थक का जमावड़ा निदेशक बंगला के बाहर लगा रहा.



बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था बदतर-तेजप्रताप
तेजप्रताप ने लालू प्रसाद के स्वास्थ्य को ठीक बताते हुए बिहार के सरकारी अस्पतालों में व्यवस्था को ध्वस्त बताया. उन्होंने सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि बिहार में अस्पताल और स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल बदतर है और सरकार नींद की गोली खाकर सोयी हुई है. तेज प्रताप ने कहा कि अस्पताल में न ठीक से कोरोना का इलाज हो रहा है और न ही जांच की कोई व्यवस्था है. हर तरफ त्राहिमाम की स्थिति है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज