चारा घोटाला: लालू प्रसाद, जगन्नाथ मिश्र समेत 31 आरोपियों पर फैसला टला

96 फर्जी वाउचर के जरिए दिसंबर 1995 से जनवरी 1996 के बीच दुमका कोषागार से 3 करोड़ 76 लाख की अवैध निकासी की गयी.

Bhuvan Kishor Jha | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 15, 2018, 3:01 PM IST
चारा घोटाला: लालू प्रसाद, जगन्नाथ मिश्र समेत 31 आरोपियों पर फैसला टला
फाइल फोटो
Bhuvan Kishor Jha | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 15, 2018, 3:01 PM IST
चारा घोटाला के चौथे मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद पर आने वाला फैसला शुक्रवार तक के लिए  टल गया है. दरअसल लालू प्रसाद की ओर से सीबीआई कोर्ट में आवेदन देकर इस केस में बिहार के तत्कालीन एजी को आरोपी बनाने की मांग की गई है. उनके आवेदन पर सीबीआई के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत में आज सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान सीबीआई ने अपना पक्ष रखा. शुक्रवार को फिर इस पर सुनवाई होगी. इस याचिका पर फैसला आने के बाद ही दुमका केस में फैसला सुनाया जाएगा.

 

क्या है दुमका कोषागार मामला 

दुमका में पशुपालन पदाधिकारियों, प्रशासनिक अफसरों और राजनेता की मिलीभगत से आपूर्तिकर्ताओं ने 96 फर्जी वाउचर के जरिए दिसंबर 1995 से जनवरी 1996 के बीच कोषागार से 3 करोड़ 76 लाख की अवैध निकासी की थी. यह निकासी जिले के गांवों और कस्बों में पशुओं की खाद्य सामग्री, दवा तथा कृषि उपकरणों के वितरण के नाम पर की गई थी. जबकि उस दौरान धन आवंटन की अधिकतम सीमा मात्र एक लाख 50 हजार थी.

49 आरोपियों में से 14 की हो चुकी है मौत

इस मामले करीब 22 वर्षों तक सीबीआई की अदालत में चली सुनवाई के दौरान सीबीआई ने 49 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर कर करीब दो सौ गवाहों को पेश किया. 49 आरोपियों में तीन सरकारी गवाह बन गए, जिनमें से एक की मौत हो गयी. एक आरोपी दुमका के तत्कालीन कमिश्नर एसएन दुबे पर लगे आरोप ऊपरी अदालत से निरस्त हो गए. ट्रॉयल के दौरान 14 आरोपियों की मौत हो गयी. इस केस में संयुक्त बिहार के दो पूर्व सीएम लालू प्रसाद और जगन्नाथ मिश्र सहित कुल 31 आरोपी हैं. आरोपियों में पूर्व सांसद डॉ. आरके राणा, पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद, तत्कालीन लोक लेखा समिति के अध्यक्ष ध्रुव भगत व जगदीश शर्मा भी शामिल हैं.

देवघर और चाईबासा मामले में काट रहे सजा 
Loading...

चारा घोटाला के दे‌वघर और चाईबासा मामले में लालू प्रसाद को सजा सुनाई जा चुकी है. देवघर मामले में साढ़े तीन साल और चाईबासा केस में पांच साल की सजा वो रांची की होटवार जेल काट रहे हैं.

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->