Home /News /jharkhand /

chhattisgarh cm bhupesh baghel said india gets energy oxygen from jharkhand chhattisgarh proved during corona crisis bruk

जनजातीय महोत्सव में बोले भूपेश बघेल, झारखंड-छत्तीसगढ़ से मिलता है देश को ऊर्जा और ऑक्सीजन

रांची में आयोजित दो दिवसीय जनजातीय महोत्सव में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी शामिल हुये.

रांची में आयोजित दो दिवसीय जनजातीय महोत्सव में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी शामिल हुये.

Jharkhand News: विश्व आदिवासी दिवस पर रांची में झारखंड जनजातीय महोत्सव का आयोजन किया गया. इस दो दिवसीय महोत्सव के समापन समारोह में बुधवार को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए. इस मौके पर भूपेश बघेल ने झारखंड के लोगों के साथ तमाम आदिवासी समाज को शुभकामनाएं दी.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड की राजधानी रांची में दो दिवसीय जनजातीय महोत्सव का बुधवार को समापन हो गया. समारोह के दूसरे दिन छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी रांची पहुंचे और कार्यक्रम में शामिल हुये. रांची के मोरहाबादी मैदान में कार्यक्रम स्थल पहुंचते ही सीएम भूपेश बघेल का ढोल नगाड़ों और दूसरे पारंपरिक वाद्ययंत्रों के साथ स्वागत किया गया. मंच पर झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने भूपेश बघेल को शॉल और साल का पौधा देकर स्वागत किया.

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि झारखंड और छत्तीसगढ़ देश को ऊर्जा और ऑक्सीजन देता है. कोविड संक्रमण काल के दौरान सबसे ज्यादा ऑक्सीजन इन दोनों राज्यों ने दिया है. इन दोनों राज्यों का विशेष महत्व है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता की ओर से हार्दिक अभिनंदन करता हूं. दुनिया में एक दिन तो विश्व आदिवासी दिवस समारोह आयोजित होता है. लेकिन, हेमंत सोरेन जी ने दो दिवसीय जनजातीय महोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया. यह बड़ी बात है.

बता दें, बुधवार यानि 10 अगस्त को सीएम हेमंत सोरेन का जन्मदिन भी था. ऐसे में इस दौरान सीएम भूपेश बघेल ने मंच पर सीएम हेमंत सोरेन को जन्मदिन की शुभकामनाएं भी दी. इस दौरान उन्होंने कहा कि झारखंड की वीर भूमि को नमन करता हूं. झारखंड की अस्मिता की लड़ाई के लिए जिसने अपनी शहादत दिया हो सभी को मैं नमन करता हूं. शिबू सोरेन जी को प्रणाम करता हूं, जिसने झारखंड प्रदेश को लेकर संघर्ष किया.

भूपेश बघेल ने कहा कि जिस प्रकार नौ अगस्त को यूएन में विश्वआदिवासी दिवस समारोह मनाया जा रहा है.9 अगस्त को सरकारी छूटी घोषित किया है. छत्तीसगढ़ में हमने नौ अगस्त को सरकारी छूटी घोषित किया है. हमारी संस्कृति को बचाने का काम हेमंत सोरेन और उनके साथ सबको करना होगा. जड़ अगर मजबूत रहे तो काट नहीं सकते और संस्कृति समाप्त नहीं किया जा सकता है. हेमंत सोरेन सहित सभी मंत्री और विधायक को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं कि ऐसा कार्यक्रम आयोजित किया है.

Tags: Bhupesh Baghel, Chhattisagrh news, Hemant soren, Jharkhand news, Ranchi news

अगली ख़बर