स्थापना दिवस पर सीआईएसएफ ने देशभर में 10 लाख पौधे लगाए

Manoj Kumar | News18 Jharkhand
Updated: July 7, 2018, 2:53 PM IST
स्थापना दिवस पर सीआईएसएफ ने देशभर में 10 लाख पौधे लगाए
रांची स्थित पूर्वी क्षेत्रीय मुख्यालय में स्थापना दिवस पर सीआईएसएफ ने ढाई हजार से ज्यादा फलदार वृक्ष लगाए

ग्लोबल वार्मिंग से बचाव को लेकर आज एक दिन में पूरे देश में एक साथ दस लाख पौधे लगाए गए. इसी कड़ी में रांची स्थित पूर्वी क्षेत्रीय मुख्यालय में भी उद्यान वन महोत्सव का आयोजन किया गया जिसमें ढाई हजार से ज्यादा फलदार वृक्ष लगाए गए.

  • Share this:
केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल अपना 50 वां स्थापना वर्ष मना रहा है. इस अवसर पर बल की एक नई भूमिका सामने आ रही है जिसमें न सिर्फ औद्योगिक सुरक्षा की बात बल्कि सामाजिक सुरक्षा और दायित्व के विभिन्न आयाम जुड़ रहे हैं. इसी कड़ी में रांची स्थित पूर्वी क्षेत्रीय कार्यालय में उद्यान महोत्सव का आयोजन किया गया.

उद्योगों की सुरक्षा करने वाले औद्योगिक सुरक्षा बल का आज एक नया चेहरा सामने आया. यह चेहरा सामाजिक सुरक्षा और दायित्व से जुड़ा है. अपने स्थापान वर्ष में सीआईएसएफ ने जहां रक्त की कमी से होने वाली मौत को रोकने के लिए त्रैमासिक ब्लड डोनेशन करने का कार्य शुरू किया, वहीं दूसरी ओर ग्लोबल वार्मिंग से बचाव को लेकर आज एक दिन में पूरे देश में एक साथ दस लाख पौधे भी लगाए गए. इसी कड़ी में रांची स्थित पूर्वी क्षेत्रीय मुख्यालय में भी उद्यान वन महोत्सव का आयोजन किया गया जिसमें ढाई हजार से ज्यादा फलदार वृक्ष लगाए गए.

इस मौके पर सीआईएसएफ जवानों ने पौधा रोपण और पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक नुक्कड़ नाटक भी प्रस्तुत किया. इसमें वनों के संहार से उपजी स्थिति का भयावह चित्रण किया गया और वन लगा कर उस स्थिति से कैसे बचा जा सकता है यह दिखाने की कोशिश जवानों ने की है. इस मौके पर वन विभाग के अधिकारियों ने सीआईएसएफ के इस कार्य की तारीफ की और कहा कि ढाई करोड़ पौधारोपण के ल्क्ष्य को ऐसे सहयोग से ही पूरा किया जा सकता है.

मालूम हो कि देश के औद्योगिक प्रतिष्ठानों की रक्षा के लिए गठित औद्योगिक सुरक्षा बल देश के वैसे बल में शामिल है जिसकी साहस और बलिदान की कई कहानियां हमें प्रेरणा देती है. ऐसे में औद्योगिक सुरक्षा बल ने अपने 50वें स्थापना वर्ष में रक्तदान और पौधारोपण जैसे सामाजिक सुरक्षा के कार्य कर एक अनूठी पहल की है जो समाज के विभिन्न संस्थानों को प्रेरणा देगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 7, 2018, 2:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...