हिडेन एजेंडा के तहत संवैधानिक संस्थाओं के जरिये आदिवासियों-दलितों को कुचल रही केन्द्र सरकार- CM हेमंत

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अस्पताल जाकर कोरोना पीड़ित शिक्षा मंत्री का हालचाल जाना
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अस्पताल जाकर कोरोना पीड़ित शिक्षा मंत्री का हालचाल जाना

स्टेन स्वामी की गिरफ्तारी पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कहा कि हिडेन एजेंडा के तहत संवैधानिक संस्था का इस्तेमाल कर आदिवासियों और दलितों को कुचलने का काम केंद्र सरकार कर रही है.

  • Share this:
रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने मेडिका हॉस्पिटल जाकर कोरोना का इलाज करा रहे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो (Jagarnath Mahto) का हालचाल जाना. मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा मंत्री की स्थिति में पहले से सुधार है. लेकिन सुधार की रफ्तार काफी धीमी है. इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता भी मौजूद थे. मुख्यमंत्री के आने से पहले शिक्षा मंत्री के इलाज के लिए गठित मेडिकल बोर्ड ने मेडिका का दौरा कर जगरनाथ महतो के बारे में जानकारी ली.

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि शिक्षा मंत्री को फिलहाल सांस लेने में दिक्कत हो रही है. लेकिन वे बात कर पा रहे हैं. पिछले दिनों सरकार की तरफ से उन्हें बाहर भेजने का दो- तीन बार प्रयास किया गया. लेकिन डॉक्टरों की सलाह के बाद इसे रोक दिया गया. उनकी स्थित में सुधार हो रही है, लेकिन इसकी रफ्तार धीमी है.

स्टेन स्वामी की गिरफ्तारी को लेकर मुख्यमंत्री ने बीजेपी पर हमला बोला और कहा कि हिडेन एजेंडा के तहत संवैधानिक संस्था का इस्तेमाल कर आदिवासियों और दलितों को कुचलने का काम केंद्र सरकार कर रही है.



उधर, शिक्षा मंत्री के स्वास्थ्य की जानकारी देते हुए मेडिका अस्पताल के डॉक्टर विजय मिश्रा ने कहा कि पिछले दो-तीन दिन से शिक्षा मंत्री के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है. और ऐसा रहा तो जल्द ही शिक्षा मंत्री पूरी तरह स्वस्थ हो जाएंगे. फिलहाल उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही है, जिसको देखते हुए ऑक्सीजन पर रखा गया है.
गत 28 सितंबर को कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को रिम्स के कोविड-19 सेंटर में भर्ती कराया गया था. लेकिन स्थिति ज्यादा खराब होने के कारण बाद में उन्होंने मेडिका शिफ्ट किया गया. बीच में एयर एंबुलेंस से दिल्ली ले जाने की भी तैयारी थी. लेकिन डॉक्टरों की सलाह पर इसे टाल दिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज