लाइव टीवी

ग्रामीणों की हत्या पर सीएम हेमंत सोरेन बोले- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा, बुलाई उच्चस्तरीय बैठक
Ranchi News in Hindi

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: January 22, 2020, 1:12 PM IST
ग्रामीणों की हत्या पर सीएम हेमंत सोरेन बोले- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा, बुलाई उच्चस्तरीय बैठक
चाईबासा में ग्रामीणों की हत्या को सीएम हेमंत सोरेन ने दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताया (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने ट्वीट कर घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. और लिखा कि इस घटना से मैं आहत हूं. कानून सबसे ऊपर है. और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

  • Share this:
रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने चाईबासा की घटना को गंभीरता से लिया है. उन्होंने इस सिलसिले में दोपहर तीन बजे आलाधिकारियोंं की बैठक बुलाई है. इस मसले पर दिल्ली में न्यूज-18 से बात करते हुए उन्होंने कहा कि कानून को हाथ में लेना गुनाह है. इसकी इजाजत हमारी सरकार किसी को नहीं देगी. आगे बैठक के बाद इस दिशा में सरकार निर्णय लेगी. इस बीच पत्थलगड़ी (Pathalgadi) के विरोध करने पर अगवा हुए सातों ग्रामीणों के शव को पुलिस ने बरामद कर लिया है. पश्चिम सिंहभूम जिले के गुदड़ी प्रखंड के बुरुगुलीकेरा गांव में पत्थलगड़ी (Pathalgadi) का विरोध करने पर पत्थलगड़ी समर्थकों ने सात ग्रामीणों को अगवा कर उनकी हत्या (Murder) कर दी. सातों ग्रामीणों के शव गांव से तीन किलोमीटर दूर बरामद किये गये हैं. एडीजी ऑपरेशन मुरारी लाल मीना ने इसकी पुष्टि की है.

इस बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. और लिखा कि इस घटना से मैं आहत हूं. कानून सबसे ऊपर है. और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

सीएम हेमंत सोरेन का ट्वीट

उपमुखिया समेत 7 ग्रामीणों का हुआ था अपहरण

जानकारी के मुताबिक बीते रविवार को बुरुगुलीकेरा गांव पत्थलगड़ी समर्थकों ने गांववालों के साथ बैठक की. इस बैठक के दौरान आधार और राशनकार्ड को लेकर दो गुटों झड़प में हो गयी. झड़प के बाद पत्थलगड़ी का विरोध करने वाले उपमुखिया जेम्स बूढ़ समेत सात लोगों को पत्थलगड़ी समर्थकों ने अगवा कर लिया. और अपने साथ जंगल लेते चले गये. रात तक अगवा लोगों के घर नहीं लौटने पर सोमवार को घरवालों ने इसकी सूचना गुदढ़ी थाने को दी. मंगलवार दोपहर सभी अगवा लोगों की हत्या होने की सूचना मिलने पर पुलिस महकमा में हड़कंप मच गया. जिसके बाद शवों की खोजबीन में जंगल में सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया. बुधवार सुबह गांव से तीन किलोमीटर दूर जंगल से सातों ग्रामीणों के शव बरामद किये गये. डीआईजी कोल्हान कुलदीप द्विवेदी और चाईबासा एसपी इंद्रजीत महथा मौके पर कैंप कर रहे हैं. पुलिस और सीआरपीएफ के जवान आसपास के जंगलों में सर्च अभियान चला रहे हैं.

ये भी पढ़ें- पत्थलगड़ी का विरोध करने पर अगवा हुए सातों ग्रामीणों के शव बरामद

 

 

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 1:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर