Home /News /jharkhand /

भगवान बिरसा मुंडा के गांव से राज्यवासियों को सौगात, सीएम हेमंत ने 58 योजनाओं का किया शुभारंभ

भगवान बिरसा मुंडा के गांव से राज्यवासियों को सौगात, सीएम हेमंत ने 58 योजनाओं का किया शुभारंभ

भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर उनके गांव उलिहातु जाकर सीएम हेमंत सोरेन ने उन्हें नमन किया.

भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर उनके गांव उलिहातु जाकर सीएम हेमंत सोरेन ने उन्हें नमन किया.

Bhagwan Birsa Munda Jayanti: भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर सीएम हेमंत ने उनके गांल उलिहातु जाकर उन्हें नमन किया. सीएम ने कहा कि आज तक आदिवासी समुदाय शैक्षणिक और सामाजिक रूप से पीछे रहा है. लेकिन आज उन्हीं के बीच का व्यक्ति राज्य के विकास को गति देने में जुटा है.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- निरंजन कुमार 

    रांची. भगवान बिरसा मुंडा की जयंती और झारखंड राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर हेमंत सोरेन सरकार ने महत्वाकांक्षी योजना “आपके अधिकार-आपकी सरकार-आपके द्वार” कार्यक्रम की शुरूआत की. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली उलिहातु जाकर धरती आबा को नमन किया. और कार्यक्रम का शुभारंभ किया. सीएम ने वहां बिरसा मुंडा के वंशज सुखराम मुंडा को भूमि बंदोबस्ती का पट्टा दिया. साथ ही कई अन्य कल्याणकारी योजनाओं की भी शुरूआत की.

    सीएम ने कहा कि आज तक आदिवासी समुदाय शैक्षणिक और सामाजिक रूप से पीछे रहा है. लेकिन आज उन्हीं के बीच का व्यक्ति राज्य के विकास को गति देने में जुटा है. आज राज्य में राशनकार्ड से वंचित 15 लाख जरूरतमंदों को हरा राशन कार्ड प्रदान किया जा रहा है. आदिवासी समाज के बच्चों को विदेश में उच्च शिक्षा प्रदान करने हेतु सरकार भेज रही है. खिलाड़ियों को सीधी नियुक्ति दी जा रही है.

    इस दौरान उन्होंने 111 करोड़ रुपये की 27 योजनाओं का उद्घाटन, 31 योजनाओं का शिलान्यास एवं लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया. बेहतर कार्य करने वालों को प्रशस्ति पत्र और नव नियुक्त स्वास्थ्यकर्मियों को नियुक्ति पत्र सौंपा. यूनिवर्सल पेंशन योजना से लाभान्वित होने हेतु सांकेतिक तौर पर पांच लाभुकों ने मुख्यमंत्री को आवेदन पत्र सौंपा.

    मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार स्कूली बच्चों को छह दिन अंडा देने का कार्य कर रही है. हालांकि हमें अंडा अन्य राज्यों से मंगाना पड़ रहा है. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे मुर्गी पालन कर अंडा का उत्पादन करें. सरकार उसे खरीद लेगी. साथ ही, अन्य खाद्य सामग्री भी उत्पादित करें. पलाश ब्रांड के जरिए ग्रामीण महिलाओं द्वारा उत्पादित सामग्री को बाजार उपलब्ध कराया जा रहा है. इस कार्य को और गति दी जा रही है. आज जरुरतमंद लोगों के बीच बकरी, मुर्गी एवं अन्य पशु पालन हेतु प्रदान की गई है. जबकि यहां पशुपालन की परंपरा सदियों से चली आ रही है. बस उसे मजबूती देने का कार्य किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पूर्व के समय को याद करें तो आदिवासियों के पास पशुधन का भंडार हुआ करता था. लेकिन वह अब विलुप्त हो रहा है.

    Tags: Birsa Munda Jayanti, CM Hemant Soren, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर