लाइव टीवी

गर्दन में दर्द के बावजूद मुख्यमंत्री ने सुनीं लोगों की समस्याएं, दी बापू को सच्ची श्रद्धांजलि

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: January 30, 2020, 5:35 PM IST
गर्दन में दर्द के बावजूद मुख्यमंत्री ने सुनीं लोगों की समस्याएं, दी बापू को सच्ची श्रद्धांजलि
गले में दर्द के बावजूद लोगों की समस्याएं सुनते सीएम हेमंत सोरेन

मुख्यमंत्री ने कहा कि बापू के सपनों का देश बनाने के लिए हमें त्याग और समर्पण की भावना से काम करने की आवश्यकता है. राष्ट्रपिता का दर्शन सत्य और अहिंसा पर आधारित है. हिंसा का समाज में कोई स्थान नहीं है.

  • Share this:
रांची. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की पुण्यतिथि पर रांची के मोरहाबादी मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) और मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन (CM Hemant Soren) ने उन्हें श्रद्धांजलि (Tribute) अर्पित की. इस मौके पर बापू वाटिका में कलाकारों ने गांधी जी के प्रिय भजन और रामधुन पेश किये. राज्यपाल ने कहा कि परायी पीर को अपना समझकर उसे दूर करने का प्रयास करना ही गांधी जी का संदेश था. हमें इसे अपने जीवन में आत्मसात करना चाहिए.

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि हम सभी को इस बात पर गर्व होना चाहिए कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जैसा व्यक्तित्व हमारे देश में जन्म लिया था. उन्होंने ऐसे समाज की कल्पना की थी, जिसमें हर व्यक्ति सुख समृद्धि हों. समाज में किसी तरह का भ्रष्टाचार न हो और देश स्वावलंबी बने.

'त्याग और समर्पण की भावना से करें काम'

मुख्यमंत्री ने कहा कि बापू के सपनों का देश बनाने के लिए हमें त्याग और समर्पण की भावना से काम करने की आवश्यकता है. राष्ट्रपिता का दर्शन सत्य और अहिंसा पर आधारित है. हिंसा का समाज में कोई स्थान नहीं है. महात्मा गांधी ने बिना भेदभाव के गरीबी मुक्त और स्वाबलम्बी देश का सपना देखा था. उनके दिखाये रास्ते पर चलना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी. हम सभी को बापू के दिखाए रास्ते और उनके आदर्शों की परंपरा को बनाए रखना है.

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू और सीएम हेमंत सोरेन ने पुण्यतिथि पर महात्मा गांधी को दी श्रद्धांजलि
राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू और सीएम हेमंत सोरेन ने पुण्यतिथि पर महात्मा गांधी को दी श्रद्धांजलि


गर्दन में दर्द के बावजूद सुनीं समस्याएं

श्रद्धाजंलि कार्यक्रम के बाद गर्दन में दर्द के बावजूद मुख्यमंत्री ने सीएम आवास पर लोगों की समस्याएं सुनीं. हालांकि लोगों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी, लेकिन वे रोज की तरह गुरुवार को भी बड़ी संख्या में आए लोग को सुना और समस्या दूर करने का भरोसा दिलाया.ये भी पढ़ें- जमशेदपुर में सीएए-एनआरसी को लेकर दो पक्षों में झड़प, एक गिरफ्तार 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2020, 5:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर