अपना शहर चुनें

States

झारखंडः कपड़ा-जूते की दुकान और सैलून खुलेंगे या नहीं, CM हेमंत सोरेन आज ले सकते हैं फैसला

 सीएम हेमंत सोरेन  (फाइल फोटो)
सीएम हेमंत सोरेन (फाइल फोटो)

COVID-19 के मद्देनजर श्रावणी मेला (Shravani Mela 2020) के आयोजन समेत लॉकडाउन में छूट पर PM नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद झारखंड सरकार लेगी फैसला.

  • Share this:
रांची. झारखंड में कोरोना वायरस (COVID-19) के बढ़ते संक्रमण के बीच आज से लॉकडाउन (Lockdown ) में कुछ नई चीजों पर छूट का फैसला लिया जा सकता है. कपड़े और जूते की दुकान के साथ-साथ सैलून खोलने को लेकर आज मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) कोई निर्णय ले सकते हैं. इसके अलावा देवघर के श्रावणी मेले (Shravani Mela 2020) को लेकर भी फैसला लिया जा सकता है. सीएम ने इस बात के संकेत दिए हैं. लॉकडाउन को लेकर राजधानी रांची में उच्चस्तरीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ मंगलवार को होने वाली मुख्यमंत्रियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान लॉकडाउन की गाइडलाइंस पर चर्चा होगी. इसके बाद ही स्थिति के अनुसार फैसला लिया जाएगा. सीएम सोरेन ने कहा कि सरकार ने इसके लिए तैयारियां कर रखी है.

सोमवार की शाम राजधानी रांची के प्रोजेक्ट भवन में बैठक के बाद सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन को लेकर कोई भी फैसला केंद्र की गाइडलाइंस और निर्देश के आधार पर ही लिया जाएगा. इस संबंध में मंगलवार को केंद्र सरकार के साथ चर्चा होगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार इस बाबत होमवर्क कर रही है. इसके अलावा देवघर के श्रावणी मेले को लेकर भी सीएम ने स्थिति स्पष्ट की. उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने इस संदर्भ में निर्देश दे रखा है. कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम और लॉकडाउन को देखते हुए राज्य सरकार स्थिति के अनुसार इस पर फैसला करेगी.

15 दिन में 5000 से ज्यादा मामले संभव
इससे पहले राज्य में COVID-19 महामारी की स्थिति को लेकर स्वास्थ्य सचिव ने चिंता जताते हुए कहा कि अगर यही रफ्तार रही तो अगले 15 दिनों में झारखंड में कोरोना मामलों की संख्या 5000 से ऊपर पहुंच सकती है. सोमवार को प्रोजेक्ट भवन में संयुक्त प्रेसवार्ता के दौरान स्वास्थ्य सचिव ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बाद 6.89 लाख से ज्यादा प्रवासी मजदूर झारखंड लौटे हैं. राज्य में अभी तक कोरोना पॉजिटिव की कुल संख्या 1763 है, जिसमें से 850 एक्टिव केस हैं, वहीं 905 ठीक हो चुके हैं. अभी तक 1477 श्रमिक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. ऐसे में विभाग का आकलन है कि अगर यही रफ्तार रही तो 15 दिनों में प्रदेश में कोरोना मामलों की संख्या बढ़ सकती है.
ये भी पढ़ें- 



तलाकशुदा महिला को शादी का झांसा देकर चार साल तक रेप करता रहा हेडकांस्टेबल

Weather Update: हरियाणा में 48 घंटे रहेंगे भारी, आंधी और वज्रपात की चेतावनी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज