झारखंड के CM हेमंत सोरेन को मिली धमकी- सुधर जाओ, नहीं तो जान से मार दिए जाओगे
Ranchi News in Hindi

झारखंड के CM हेमंत सोरेन को मिली धमकी- सुधर जाओ, नहीं तो जान से मार दिए जाओगे
सीएम हेमंत सोरेन (फाइल फोटो)

पूरे मामले पर कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं, लेकिन मुख्यमंत्री की सुरक्षा की व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) के ईमेल पर जान से मारने की धमकी मिली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 17, 2020, 12:09 PM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) को 2 मेल के जरिए जान से मारने की धमकी (Death Threats) मिली है. सीआईडी (CID) मामले की शिकायत दर्ज कर जांच कर रही है. वहीं पूरे मामले पर कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं, लेकिन मुख्यमंत्री की सुरक्षा (Security) व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हेमंत सोरेन के ईमेल पर जान से मारने की धमकी मिली है.

सुधर जाओ, नहीं तो...
सीएम हेमंत सोरेन को भेजे गए ईमेल में लिखा है सुधर जाओ, नहीं तो जान से मार दिए जाओगे. मामला कितना गंभीर है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि धमकी के बाद से ही मुख्यमंत्री के सुरक्षाकर्मियों को विशेष चौकसी बरतने का निर्देश दिया गया है. वहीं मामले में आईपी एड्रेस के सहारे आरोपी तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है.

जेएमएम (JMM) ने कड़ी प्रतिक्रिया दी
वहीं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ई-मेल पर धमकी दिए जाने पर जेएमएम (JMM) ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता मनोज पांडे ने कहा कि सीएम की लोकप्रियता से घबराकर ऐसी हरकत की गई है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पूरे मामले की जांच कराएगी. राजनीतिक प्रतिद्वंदिता पर मनोज पांडे ने कहा कि सीएम की छवि ऐसी है कि सभी राजनीतिक दलों के लोग उनके बेहद करीब हैं. लिहाजा उन्होंने किसी भी राजनीतिक धमकी से साफ इनकार किया. उन्होंने कहा कि इसके पीछे जिस किसी का भी हाथ होगा सरकार कड़ी कार्रवाई करने से नहीं चूकेगी.



हो सकता है  फर्जी ईमेल
हालांकि ये भी आशंका व्यक्त की जा रही है कि फर्जी ईमेल के जरिये ही ये पूरा घटनाक्रम हुआ है. फिलहाल वरीय अधिकारियों के निर्देश पर गोपनीय तरीके से मामले की पड़ताल की जा रही है. आपको बता दें कि हाल के दिनों में नक्सलियों के द्वारा रांची में दस्तक दी गई है और पोस्टरबाजी जैसी घटना भी हुई है. ऐसे में इस थ्रेट का नक्सली कनेक्शन है या नहीं इस बिंदु पर भी जांच की जा रही है.

बहरहाल, सीआईडी की टीम पूरे मामले की हर संभावित बिंदु पर जांच कर रही है. आपको बता दें कि पूर्व में भी राज्यपाल सहित कई बड़े नेताओं को इस तरह की धमकी, पत्र या मेल के द्वारा मिल चुकी है. कुछ मामलों के तार प्रदेश के दूसरे जिलों से जुड़े मिले है और मामले में गिरफ्तारियां भी हुई हैं. (रिपोर्ट- ओमप्रकाश)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज