लाइव टीवी

सरकार के सौ दिन पूरे होने पर बोले सीएम हेमंत- लॉकडाउन के बाद सबसे बुरी स्थिति झारखंड की होगी
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 8, 2020, 10:48 AM IST
सरकार के सौ दिन पूरे होने पर बोले सीएम हेमंत- लॉकडाउन के बाद सबसे बुरी स्थिति झारखंड की होगी
झारखंड में हेमंत सोरेन सरकार के सौ दिन पूरे हो गये (फाइल फोटो)

सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) खुलने पर बाहर फंसे लाखों लोग राज्य लौटेंगे. इनके लिए रोजी-रोटी की व्यवस्था करना बहुत कठिन होगा. ऐसे में अगर केन्द्र ने ध्यान नहीं दिया, तो झारखंड की स्थिति सबसे खराब होगी.

  • Share this:
रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कहा कि देश में लॉकडाउन (Lockdown) हटने के बाद सबसे बुरी हालत झारखंड की होगी. राज्य के सामने बड़ी चुनौती प्रवासी मजदूरों (Migrant Laborer) को लेकर होगी. लॉकडाउन खुलने पर बाहर फंसे लाखों लोग राज्य लौटेंगे. इनके लिए रोजी-रोटी की व्यवस्था करना बहुत कठिन होगा. जीएसटी (GST) ने पहले ही राज्यों की हालत खराब कर रखी है. ऐसे में अगर केन्द्र ने ध्यान नहीं दिया, तो झारखंड की स्थिति सबसे खराब होगी. मुख्यमंत्री ने ये बातें दूरदर्शन से खास बातचीत में कही.

'चुनौतियों का सामने करने की है तैयारी'  

न्यूज-18 से खास बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछड़ा राज्य होने के बावजूद सरकार ने अपने स्तर से सामने आने वाले चुनौतियों के लिए तैयारियां की है. लाखों मजदूर राज्य से बाहर है और लाखों की संख्या में मजदूर वापस भी आएं हैं. बाहर फंसे मजदूरों को परेशानी न हो, इसके लिए दो कंट्रोल रूम बनाये गये हैं. राज्य के अंदर कोई भूखा न रहे, इसके लिए सरकार ने अनाज और खाना देने की योजना बनाई है. मुख्यमंत्री दीदी किचन योजना को माइलस्टोन बताते हुए सीएम ने कहा कि एक ओर दाल भात योजना चल रही है, तो दूसरी ओर अब राज्य के 5000 केंद्रों में सीएम दीदी किचन योजना से लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है. कोरोना के चलते बेरोजगार हुए लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था सरकार कर रही है.



'केंद्र से नहीं मिल रही उचित मदद'



मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से निपटने में सबसे बड़ी बाधा यह आ रही है कि हमें केंद्र से मेडिकल किट नहीं मिला रहा. 1500 वेंटिलेटर की मांग की, पर एक भी नहीं मिला. पीपीई किट 75000 मांगा, पर केंद्र ने महज पांच हजार किट दिए. मुख्यमंत्री ने आरोप लगाते हुए कहा कि और तो और थर्मो स्कैनर भी केंद्र से नहीं मिली.

'बीजेपी कर रही सियासत'

मुख्यमंत्री ने हिंदपीढ़ी में एक धर्म विशेष के अधिकारियों को तैनात करने के बीजेपी नेताओं के बयान को राजनीति करार दिया है. कोरोना को लेकर जेल में बंद विचाराधीन कैदी या 7 साल से कम सजा पाने वाले लोगों को पैरोल पर रिहा करने के सवाल पर हेमन्त सोरेन ने कहा कि सरकार इस पर विचार कर रही है. झारखंड में लॉकडाउन कब तक के सवाल पर सीएम ने कहा कि सरकार नजर बनाई हुई है और अगले दो दिनों में राज्य के वरिष्ठ डॉक्टरों के साथ बैठक कर फैसला लिया जाएगा.

रिपोर्ट- उपेन्द्र कुमार 

ये भी पढ़ें- झारखंड के गुमला में कोरोना फैलाने के अफवाह में दो गुट भिड़े, एक युवक की मौत

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 8, 2020, 9:29 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading