Home /News /jharkhand /

जीरो परफॉर्मेंस पर CM हेमंत सोरेन के सख्त तेवर से कांपे डीसी! पूछा- हिम्मत कैसे हुई? पढ़ें पूरा वाकया

जीरो परफॉर्मेंस पर CM हेमंत सोरेन के सख्त तेवर से कांपे डीसी! पूछा- हिम्मत कैसे हुई? पढ़ें पूरा वाकया

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज विभिन्न विभागों के कामकाज की समीक्षा कर रहे हैं.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज विभिन्न विभागों के कामकाज की समीक्षा कर रहे हैं.

CM Hemant Soren Review Meeting: सूत्रों के मुताबिक योजनाओं के अनुपालन में चतरा जिले का काम-काज बेहतर रहा है. जबकि रामगढ़, दुमका, पाकुड़ जैसे जिलों का प्रदर्शन खराब रहा है. इसलिए इनजिलों को डीसी को फटकार पड़ी है.

    इनपुट- अविनाश कुमार

    रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) आज विभिन्न विभागों के कामकाज की समीक्षा कर रहे हैं. झारखंड मंत्रालय में ये बैठक चल रही है. खबर लिखे जाने तक चार विभागों के कामकाज की समीक्षा की गई है. इनमें कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता, ग्रामीण विकास विभाग, खाद्य- आपूर्ति विभाग एवं पंचायती राज विभाग शामिल हैं. सूत्रों के हवाले से जो जानकारी सामने आई है, उसके मुताबिक इस समीक्षा बैठक में कई जिलों के डीसी को योजना की धीमी रफ्तार को लेकर जोरदार फटकार लगाई गई है.

    सूत्रों के मुताबिक योजनाओं के अनुपालन में चतरा जिले का काम-काज बेहतर रहा है. जबकि रामगढ़, दुमका, पाकुड़ जैसे जिलों का प्रदर्शन खराब रहा है. इसलिए इनजिलों को डीसी को फटकार पड़ी है. सीएम हेमंत सोरेन ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए इन जिलों के डीसी से पूछा है कि जीरो परफॉर्मेंस के साथ बैठक में आने की उन्होंने हिम्मत कैसे जुटाई. सीएम ने सख्त आदेश देते हुए कहा कि हर- हाल में तय समय के अंदर योजना पूरा होनी चाहिए.

    सूत्रों के मुताबिक सीएम ने समीक्षा बैठक में जिलों में मनरेगा की योजनाओं को बेहतर ढंग से लागू करने को लेकर सख्त निर्देश दिया है. साथ ही जॉबकार्ड में उम्र से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है. सीएम ने पलाश ब्रांड के उत्पादों को प्रमुखता देने, फूलो झानो अभियान के अंतर्गत हड़िया-दारू बेचने को मजबूर बहनों को जोड़ने और 15 अक्टूबर तक आवास योजना का लाभ देने का भी आदेश दिया है. बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत पौधारोपण में स्थल चयन पर जोर दिया है. पौधों की सिंचाई के लिए जरूरत मंद को कार्य आवंटित करने का निर्देश दिया है.

    सीएम आज मैराथन बैठक कर 16 विभागों के कामकाज की समीक्षा कर रहे हैं. इस दौरान संबंधित विभाग के मंत्री, सचिव के साथ-साथ जिलों के उपायुक्त व एसपी मौजूद हैं. सबसे लास्ट में गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन की बैठक होगी. इसके बाद शाम 6 बजे समीक्षा बैठक खत्म होगी.

    सरकार का फोकस ग्रामीण विकास योजना मसलन, मनरेगा और प्रधानमंत्री आवास योजना पर है. मनरेगा में पिछले कुछ माह से लगातार रोजगार सृजन में गिरावट देखने को मिल रही है. जुलाई व अगस्त में रोजगार का आंकड़ा क्रमश: 65 व 56 लाख ही रहा. राज्य के 264 प्रखंडों में से 150 प्रखंडों का प्रदर्शन खासा निराशाजनक बताया गया है.

    ग्रामीण विकास विभाग ने खराब प्रदर्शन वाले प्रखंडों में मनरेगा के कार्यों को गति देने के लिए गत 22 अगस्त से विशेष अभियान शुरू किया है. यह अभियान 15 दिसंबर तक चलेगा. वहीं, प्रधानमंत्री आवास योजना की बात करें, तो वर्ष 2016 से 2021 के बीच के आवासों में आधे से अधिक आवासों का निर्माण लंबित है. पीएम आवास की राशि जारी करने को लेकर भी तमाम शिकायतें सुनने को मिल रही हैं. आवास प्लस योजना के आंकड़े भी संतोषजनक नहीं हैं.

    Tags: CM Hemant Soren, Jharkhand Government, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर