रांची: स्वास्थ्य केंद्र के बाहर प्रसव की घटना पर सीएम हेमंत सोरेन सख्त, दिए ये निर्देश
Ranchi News in Hindi

रांची: स्वास्थ्य केंद्र के बाहर प्रसव की घटना पर सीएम हेमंत सोरेन सख्त, दिए ये निर्देश
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन (CM Hemant Soren) को जानकारी मिली थी कि गोड्डा जिला के पोडै़याहाट प्रखण्ड के डेवडाड़ उपस्वास्‍थ्‍य केन्द्र बंद रहने के कारण प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला ने स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के बाहर ही बच्‍चे को जन्‍म दिया.

  • Share this:
रांची. अपने कैबिनेट सहयोगी के कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मिलने के बाद खुद से होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में चले गए मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन (Hemant Soren) ने गोड्डा जिला स्थित स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के बाहर महिला द्वारा बच्‍चे को जन्‍म दिए जाने के मामले को गंभीरता से लिया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अत्यंत गंभीर मामला है. ऐसी घटना होना पूरे राज्य के लिए पीड़ादायक है. मुख्यमंत्री ने गोड्डा के उपायुक्त को पूरे मामले की जांच कर सूचित करने का आदेश दिया है. मुख्यमंत्री सोरेन से सभी जिलों के उपायुक्त और सिविल सर्जनों को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि ऐसी घटना न हो, इसके लिए आप सभी समुचित कार्यप्रणाली बनाकर उसका पालन करवायें.

गोड्डा स्वास्थ्य केंद्र के बाहर प्रसव को लेकर ये मिली थी जानकारी

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को जानकारी मिली थी कि गोड्डा जिला के पोडै़याहाट प्रखण्ड के डेवडाड़ उपस्वास्‍थ्‍य केन्द्र बंद रहने के कारण प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला ने स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के बाहर ही बच्‍चे को जन्‍म दिया. सहिया को फोन करने पर फोन बंद पाया गया था और स्वास्थ्य उपकेंद्र में नर्स भी नही थी.
DGP को आश्रिता के मामले में संज्ञान लेने का निर्देश
मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक एमवी राव और उपायुक्त को खूंटी के घाघरा निवासी आश्रिता की हर जरूरी मदद करते हुए मामले में संज्ञान लेने का निदेश दिया है. पुलिस महानिदेशक ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि उपायुक्त खूंटी से पुलिस अधीक्षक समन्वय स्थापित कर आश्रिता को जरूरी सहायता देने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.



यह है आश्रिता का मामला

मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि जून 2018 में पत्थलगड़ी की घटना के क्रम में पुलिस द्वारा घाघरा की आश्रिता मुंडू को पीटे जाने से उसने शारीरिक रूप से विकलांग व समय से पहले बच्चे को जन्म दिया था. लेकिन उसे अभी तक किसी तरह की मदद या मुआवजा सरकार से नहीं मिला है. मामले की जानकारी के बाद मुख्यमंत्री ने उपरोक्त निदेश दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading