जम्मू-कश्मीर पर बोले CM रघुवर- एक विधान, एक संविधान और एक प्रधान का सपना पूरा हुआ

सीएम ने ट्वीट किया कि एक विधान, एक संविधान और एक प्रधान का डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का सपना आज साकार हुआ है. प्रधानमंत्री का यह ऐतिहासिक फैसला जम्मू-कश्मीर के विकास को नया आयाम देगा.

News18 Jharkhand
Updated: August 5, 2019, 1:53 PM IST
जम्मू-कश्मीर पर बोले CM रघुवर- एक विधान, एक संविधान और एक प्रधान का सपना पूरा हुआ
जम्मू-कश्मीर पर सीएम रघुवर दास ने कहा कि आज एक विधान, एक संविधान व एक प्रधान का सपना पूरा हुआ (फाइल फोटो- सीएम रघुवर दास)
News18 Jharkhand
Updated: August 5, 2019, 1:53 PM IST
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाने के केन्द्र के फैसले का स्वागत किया है. इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को बधाई दी है. सीएम ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. पाकिस्तान का नाम पूरी दुनिया में आतंकवाद फैलाने को लेकर कुख्यात है. वह छद्म युद्ध या आतंकवाद के माध्यम से कश्मीर या भारत के अन्य भागों में अराजकता फैलाना चाहता है.

एक विधान, एक संविधान और एक प्रधान का सपना पूरा 

सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह के नेतृत्व में आतंकवाद पर लगातार शिकंजा कसा जा रहा है. करोड़ों देशवासियों की चाहत है कि कश्मीर घाटी आतंकवाद मुक्त हो. देश के अन्य हिस्सों में जिस तरह विकास हो रहा है, कश्मीर में भी उसी तरह का विकास होना चाहिए.

सीएम ने ट्वीट किया कि एक विधान, एक संविधान और एक प्रधान का डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का सपना आज साकार हुआ है. प्रधानमंत्री का यह ऐतिहासिक फैसला जम्मू-कश्मीर के विकास को नया आयाम देगा. आज का दिन आजाद भारत के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों से लिखा जाएगा. 70 साल से एक परिवार की राजनीति ने जम्मू- कश्मीर को अलग-थलग कर रखा था. अब और नहीं. जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. आज के ऐसिहासिक फैसले ने कश्मीर के विकास के द्वार खोल दिए हैं. आतंक के साये में सालों से रह रहे कश्मीरियों के लिए ये एक नए युग की शुरुआत है

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35A हटा

जम्मू-कश्मीर को लेकर मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर सरकार का संकल्प पत्र पेश किया. अमित शाह ने कहा कि कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को हटा दिया गया है. अब इसके सभी खंड लागू नहीं होंगे. गृहमंत्री ने इसके साथ ही आर्टिकल 35A हटाए जाने का भी ऐलान किया.

अमित शाह ने सदन में कश्मीर के पुनर्गठन प्रस्ताव भी पेश किया. उनके ऐलान के बाद विपक्ष ने सदन में जोरदार हंगामा शुरू कर दिया. विपक्ष का आरोप है कि सरकार ने उन्हें इस तरह के किसी बिल की पहले जानकारी नहीं दी थी.
Loading...

रिपोर्ट- नवीन कुमार 

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर से धारा 370 व 35A हटाये जाने पर झारखंड में जश्न
First published: August 5, 2019, 1:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...