Home /News /jharkhand /

कोलगेट घोटाला: झारखंड में जब्त 16000 टन कोयले में से 2000 टन गायब! पूर्व सीएम के पत्र से हुआ खुलासा

कोलगेट घोटाला: झारखंड में जब्त 16000 टन कोयले में से 2000 टन गायब! पूर्व सीएम के पत्र से हुआ खुलासा

कोलगेट घोटाले के सिलसिले में सीबीआई ने झारखंड के गिरिडीह में 16000 टन कोयला जब्त किया था

कोलगेट घोटाले के सिलसिले में सीबीआई ने झारखंड के गिरिडीह में 16000 टन कोयला जब्त किया था

सीबीआई ने कोलगेट घोटाले (Colgate Scam) की जांच के सिलसिले में झारखंड के गिरिडीह जिले के ब्रह्महीहा ओपेनकास्ट माइंस में 16000 टन कोयला 2015 में जब्त किया था. पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) के मुताबिक इसमें से 2000 टन कोयला गायब हो गया है.

अधिक पढ़ें ...
    रांची. बहुचर्चित कोलगेट घोटाले (Colgate Scam) में जब्त कोयला के स्टाॅक में से लगभग 2000 टन कोयला गायब होने के मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने सीबीआई, मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) को पत्र लिखा है. और कोयला गायब होने की जांच की मांग की है. वहीं इस पूरे मामले पर जेएमएम (JMM) भी आक्रामक तेवर में नजर आ रहा है और इसको लेकर पूर्व की रघुवर सरकार पर ठीकरा फोड़ा है.

    गिरिडीह जिले के ब्रह्महीहा ओपेनकास्ट माइंस (केस्ट्रोन माइनिंग) से जब्त कोयले में से 2000 टन कोयला गायब करने के संगीन मामले को लेकर पूर्व सीएम बाबूलाल मराण्डी ने पत्र लिखा है. पत्र के माध्यम से कहा गया है कि सीबीआई द्वारा कोलगेट घोटाले की जांच के तहत ही इस माइंस से 16000 टन कोयला को पांच वर्ष पूर्व जब्त किया था. यह माइंस गिरिडीह जिले के मुफस्सिल थानाक्षेत्र के टिकोडीह-चुंजका के नजदीक स्थित हौ. और इस माइंस से लगातार कोयला गायब किया जा रहा है. ये पूरा गोरखधंधा फर्जी कागजात के सहारे चल रहा था.

    2015 में जब्त किये गये थे 16000 टन कोयले 

    पूर्व सीएम ने लिखा है कि पांच वर्ष पूर्व यानी 2015 में सीबीआई ने यहां जब्त 16000 टन कोयला के स्टाॅक की जवाबदेही माइंस के ही निजी सुरक्षागार्डो को दे दी थी. लेकिन धीरे-धीरे यहां से कोयला गायब किया जाने लगा. जिससे अब तक लगभग 2000 टन से अधिक कोयला गायब किए जाने की बात सामने आई है.

    पूर्व सीएम के मुताबिक लॉकडाउन अवधि से ठीक पूर्व फरवरी माह में धनबाद की एक कंपनी के द्वारा दस्तावेजों का फर्जीवाड़ा कर कई ट्रक कोयला इस माइंस से ढोया गया. कंपनी के लोगों ने सीबीआई द्वारा जब्त किए गए स्टाॅक से कोयला उठाव का आदेश मिलने की झूठी बात बताकर गलत कागज दिखाकर दो दिनों में कई ट्रक कोयला ढोए. वहीं लाॅकडाउन अवधि के दौरान भी कोयला गायब करने का खेल बदस्तूर जारी रही है.

    इस पूरे मामले में पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ने न्यूज-18 से बातचीत में कहा कि इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच को लेकर उन्होंने सीबीआई से लेकर पीएम तक को चिट्ठी लिखी है. जांच के बाद सच्चाई सामने आ जाएगी.

    जेएमएम ने पूर्व की रघुवर सरकार पर साधा निशाना

    बाबूलाल मरांडी की चिट्ठी पर जेएमएम भी आक्रामक मूड में है. पार्टी प्रवक्ता मनोज पांडेय ने निशाना साधते हुए कहा कि क्या बाबूलाल ने वहां सीसीटीवी लगा रखा था, जो वे बता रहे हैं कि लॉकडाउन से पहले और उसके दौरान कोयले का उठाव ज्यादा हुआ है. जेएमएम प्रवक्ता ने पूर्व की रघुवर सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि वर्तमान राज्य सरकार तानाशाही करने वाली नहीं, बल्कि दोषियों पर कार्रवाई करने वाली सरकार है. उन्होंने भरोसा दिलाया कि राज्य सरकार मामले की जांचकर दोषी पर जरूर कार्रवाई करेगी. (रिपोर्ट- ओमप्रकाश)

     

    Tags: Babulal marandi, Giridih news, Jharkhand news, PM Modi, Ranchi news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर