लाइव टीवी

शत्रुघ्न सिन्हा बोले- डबल इंजन की सरकार ने झारखंड का बेड़ा गर्क किया

News18 Jharkhand
Updated: December 4, 2019, 4:00 PM IST
शत्रुघ्न सिन्हा बोले- डबल इंजन की सरकार ने झारखंड का बेड़ा गर्क किया
शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि अहंकार और दंभ में नोटबंदी लागू की गई. इसके चलते देश की हालत खराब हुई. (फाइल फोटो)

शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने कहा कि अब चुनाव बनाम चुनौती का समय है. कालाधन लाने के नाम पर नोटबंदी हुई, लेकिन कितना कालाधन वापस आया.

  • Share this:
रांची. कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने बेड़ो में पार्टी प्रत्याशी सनी टोप्पो के लिए वोट की अपील की. इस दौरान चुनावी सभा (Election Rally) को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि झारखंडवासियों के चेहरे पर चिंता की लकीरें गहरी हो गई हैं. खुद के बीजेपी (BJP) छोड़ने का जिक्र करते हुए कहा कि मैंने जनहित में बोलने की कीमत चुकाई है. व्यक्ति से बड़ा पार्टी, पार्टी से बड़ा देश और देश से बड़ा कुछ नहीं होता है. मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अहंकार और दंभ में नोटबंदी देश में लागू की गई. इसके चलते देश की हालत खराब हुई है. बेरोजगारी बढ़ी और फैक्ट्रियां बंद हुई हैं.

कांग्रेस नेता ने कहा कि अब चुनाव बनाम चुनौती का समय है. कालाधन लाने के नाम पर नोटबंदी हुई, लेकिन कितना कालाधन वापस आया. किसानों की हालत दयनीय बनी हुई है. जीएसटी ने व्यवसायियों और व्यापारियों की कमर तोड़ दी. देश और राज्य सरकार ने मिलकर झारखंड का बेड़ा गर्क कर दिया. देश में सिर्फ ट्रॉल उद्योग फल-फूल रहा है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि उद्योगपति राहुल बजाज ने कहा कि इस सरकार में बहुत भय लगता है. ऑटो उद्योग में 40 प्रतिशत तक गिरावट आई है. रेलवे भी घाटे में चल रहा है. प्याज का दाम रिकॉर्ड तोड़ रहा है. लेकिन बीजेपी जनता को मुख्य मुद्दे से भटकाने में जुटी है. उन्होंने कहा कि ताली कप्तान को, तो गाली भी कप्तान को. अगर काम अच्छा नहीं होगा, तो उसकी निंदा होगी. ईवीएम को लेकर लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव में ईवीएम का भी खेल हो सकता है. इसलिए चौकन्ना रहने की जरूरत है. लोग कहते हैं कि लोकसभा चुनाव में भी ईवीएम का खेल हुआ था.

(इनपुट- उपेन्द्र कुमार)

ये भी पढ़ें- बेरोजगारी पर बीजेपी प्रवक्ता ने विपक्ष को घेरा, बोले- एक लाख युवाओं को दी सरकारी नौकरी

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 3:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...