• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड में विधायकों का हो रहा सियासी चीरहरण, अपनी ही सरकार पर कांग्रेस MLA का बड़ा हमला

झारखंड में विधायकों का हो रहा सियासी चीरहरण, अपनी ही सरकार पर कांग्रेस MLA का बड़ा हमला

कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने हेमंत सरकार को कठघरे में खड़ा किया.

कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह (Deepika Pandey Singh) ने यहां तक कहा कि राज्य में बीजेपी को रोकना जरूरी है. इसके लिये कांग्रेस राज्य सरकार को बाहर से भी समर्थन दे सकती है. पार्टी आलाकमान को इस पर जरूर विचार करना चाहिए.

  • Share this:

रांची. झारखंड की राजनीति में कल तक बैकफुट पर नजर आने वाली कांग्रेस (Congress) अचानक से फ्रंट फुट पर खेलती हुई नजर आ रही है. विधायकों के खरीद- फरोख्त को लेकर चर्चा में आई कांग्रेस ने अब खुद की सरकार पर ही हमला बोला है. कांग्रेस की राष्ट्रीय सचिव सह महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह (Deepika Pandey Singh) ने बड़ा हमला बोला है. दीपिका पांडेय ने ताजा घटनाक्रम को लेकर कहा कि झारखंड में विधायकों का राजनीतिक चीरहरण हो रहा है. सब कुछ सूत्रों के हवाले से है और इस जानकारी से कांग्रेस विधायकों के मान-सम्मान को चोट लग रही है.

उन्होंने कहा कि राज्य की हेमंत सोरेन सरकार को गिराने को लेकर 11 विधायकों की बात हो रही है. जेएमएम के विधायकों के नाम भी सामने आ रहे हैं. दरअसल इस साजिश को समझने की जरूरत है. कांग्रेस के विधायक जनता से जुड़े सवालों का समाधान चाहते हैं. चाहे वो बात बेरोजगारों को रोजगार देने की हो या महिलाओं के साथ घटित घटनाओं को रोकने की. धनबाद में जज की मौत से लेकर वकीलों की हत्या तक के मामलों पर पुलिस की गंभीरता दिखनी चाहिये थी, पर ऐसा नहीं हो रहा है. कांग्रेस के विधायकों पर ही पुलिस की तफ्तीश चल रही है.

दीपिका पांडेय सिंह ने यहां तक कहा कि राज्य में बीजेपी को रोकना जरूरी है. इसके लिये कांग्रेस राज्य सरकार को बाहर से भी समर्थन दे सकती है. पार्टी आलाकमान को इस पर जरूर विचार करना चाहिये. दीपिका पांडेय ने जनता का काम खुद की सरकार में नहीं होने का दर्द बयां करते हुए कहा कि अगर जनता से किये गए वायदों को हम पूरा नहीं कर सकते हैं, अगर कार्यकर्ताओं की नहीं सुनी जाएगी, तो इस्तीफा दे देना ही सही होगा.

दरअसल पिछले कुछ दिनों में झारखंड में सरकार के द्वारा सरकार में शामिल लोगों पर मुकदमा का दौर जारी है. विधायक दीपिका पांडेय सिंह, विधायक अंबा प्रसाद पर मुकदमे के बाद खरीद – फरोख्त मामले में विधायक इरफान अंसारी, उमाशंकर यादव और उसके बाद ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम के होटल इमरॉल्ड प्रकरण ने कांग्रेस की छवि को धूमिल किया है. यही वजह है कि अब कांग्रेस चुपचाप बैठने के बजाय अपने अंदाज में जवाब देने में जुट गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज