झारखंड के 6 जिलों में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन सफलतापूर्वक संपन्न, पहले फेज में 1 लाख से ज्यादा हेल्थ वर्कर्स को लगेगा टीका

छत्तीसगढ़ में कुल सात जिलों में मरीजों को कोरोना वायरस वैक्सीन लगाने का ड्राई रन किया गया

छत्तीसगढ़ में कुल सात जिलों में मरीजों को कोरोना वायरस वैक्सीन लगाने का ड्राई रन किया गया

Corona Vaccination Dry Run: झारखंड के 6 जिलों, रांची, पलामू, पाकुड़, पूर्वी सिंहभूम, सिमडेगा और चतरा में 25-25 लोगों पर वैक्सीनेशन का ट्रायल किया गया.

  • Share this:

रांची. झारखंड के 6 जिलों में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) को लेकर शनिवार को ड्राई रन किया गया. रांची, पलामू, पाकुड़, पूर्वी सिंहभूम, सिमडेगा और चतरा जिलों में 25-25 लोगों पर वैक्सीनेशन का ट्रायल किया गया. वैक्सीनेशन का हिस्सा बने डॉक्टरों ने इसे नेक कार्य बताते हुए दावा किया कि कोरोना (Corona) के खात्मे का दिन अब नजदीक आ गया है. वहीं लोगों में भी वैक्सीन को लेकर उम्मीद बढ़ी है.

रांची में देर से शुरू हुआ ड्राई रन

रांची में ड्राई रन पर नजर रखने के लिए स्वास्थ्य निदेशालय, विश्व स्वास्थ्य संगठन के डॉक्टर, सिविल सर्जन सतर्क नजर आये. अंतिम समय में लाभुकों का नाम केंद्र की ओर से बदल जाने के कारण सुबह 9 बजे की जगह 10.45 बजे से ड्राई रन शुरू हो पाया. रांची में 3 जगहों, सदर अस्पताल, अनुमंडल अस्पताल बुंडू और पंचायत भवन बड़कटोली रातू में डेमो ड्राई रन किया गया. इस दौरान लाभुकों का रजिस्ट्रेशन, टीकाकरण, टीकाकरण के बाद ऑब्जरवेशन और तबीयत बिगड़ने पर अस्प्ताल में बेड व ऑक्सीजन की सुविधा का भी डेमो किया गया. आज के ड्राई रन के बाद देर शाम और कल इसकी समीक्षा की जाएगी, ताकि जो भी कमियां हो उसे दूर किया जा सके.

Youtube Video

17 लाख सीरिंज की पहली खेप पहुंची झारखंड 

झारखंड में कोरोना टीकाकरण के लिए पहली खेप में 17.08 लाख सीरिंज पहुंच चुकी है. इन्हें विभिन्न जिलों में भेजा जा रहा है. वैक्सीनेशन को लेकर तीनों चरणों की तैयारी एकसाथ की जा रही है. केन्द्र से आदेश मिलते ही राज्य में टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा.

पहले चरण में 1.22 लाख हेल्थ वर्कर्स को लगेगा टीका




जानकारी के मुताबिक पहले चरण में राज्य के लगभग 1.22 लाख हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा. इसके लिए 6224 वैक्सीनेटर को प्रशिक्षण दिया गया है. टीकाकरण में मुख्य रूप से ऐसे ANM और डॉक्टर्स को लगाया जाएगा जिन्हें पहले से टीका लगाने का प्रशिक्षण प्राप्त है. वैक्सीन निर्धारित बूथ पर लगाया जाएगा. इसके लिए जिलों में बूथों के चयन की प्रक्रिया आखिरी चरण में है. प्रत्येक बूथ पर 5 कर्मचारी इसके लिए नियुक्त होंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज