लाइव टीवी

कोरोना संक्रमित मलेशियाई महिला पाई गई ए सिमटोपोटिक, हिंदपीढ़ी इलाके में लगा कर्फ्यू
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: March 31, 2020, 11:15 PM IST
कोरोना संक्रमित मलेशियाई महिला पाई गई ए सिमटोपोटिक, हिंदपीढ़ी इलाके में लगा कर्फ्यू
दुनिया में अभी तक कोरना वायरस का कोई इलाज नहीं ढूंढा जा सका है.

रेल प्रशासन (Railway) ने राजधानी एक्सप्रेस के B1 कोच में सवार कुल 65 लोगों (Passengers) की लिस्ट और अन्य सूचनाएं रांची जिला प्रशासन को उपलब्ध करा दी है. कोच में कार्यरत सभी रेल कर्मचारियों मसलन, टीटीई, ओबीएचएस स्टाफ, कोच अटेंडेंट, खान-पान यान के कर्मचारी को होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में रहने का निर्देश जारी किया है.

  • Share this:
रांची. झारखंड (Jharkhand) का पहला कोरोना केस (First Corona Case) रांची में मिलने से जिला प्रशासन के हाथ-पैर फूले हुए हैं. प्रशासन अब उनलोगों को चिह्नित करने में जुटा है, जो पीड़ित मलेशियाई महिला (Malaysian Woman) के संपर्क में आए हैं. इसी सिलसिले में रांची डीसी राय महिमापत रे ने 16 मार्च 2020 को राजधानी एक्सप्रेस के B1 कोच में सफर कर दिल्ली से रांची पहुंचने वालों को जल्द से जल्द जिला प्रशासन से संपर्क करने का आग्रह किया है. कोरोना जांच कराने की अपील भी की है. जानकारी के मुताबिक पीड़ित मलेशियाई महिला इसी ट्रेन से 16 मार्च को दिल्ली में चढ़कर 17 मार्च को रांची पहुंची थी. प्रशासन ने उस दिन B1 कोच में सफर करने वाले यात्रियों से 1950 या 9431708333 पर जानकारी देने का आग्रह किया है.

संक्रमित महिला ए सिमटोपोटिक

रांची डीसी ने बताया कि संक्रमित महिला ए सिमटोपोटिक है, स्क्रीनिंग से संक्रमण की जानकारी नहीं मिल सकती थी. जानकारी मिलने के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा इस महिला को क्वॉरंटाइन फैसिलिटी में रखा गया. महिला की जांच कराई गई, जिसके बाद यह महिला कोरोना से संक्रमित पाई गई. उधर, वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए हिंदपीढ़ी थानाक्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है. किसी को आवश्यक वस्तुओं की जरूरत है, तो वे हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं.



रांची एसएसपी अनीश गुप्ता ने कहा कि मस्जिद में पाये गये सभी 17 विदेशी नागरिकों पर फॉरेन एक्ट और वीजा रूल्स के तहत कार्रवाई की जाएगी.



रेलवे ने सौंपी 65 लोगों की लिस्ट

इस बीच रेल प्रशासन ने राजधानी एक्सप्रेस के B1 कोच में सवार कुल 65 लोगों की लिस्ट और अन्य सूचनाएं रांची जिला प्रशासन को उपलब्ध करा दी है. कोच में कार्यरत सभी रेल कर्मचारियों मसलन, टीटीई, ओबीएचएस स्टाफ, कोच अटेंडेंट, खान-पान यान के कर्मचारी को  होम क्वारंटाइन में रहने का निर्देश जारी किया है.

हिन्दपीढ़ी इलाका पूरी तरह से सील 

उधर, रांची के हिन्दपीढ़ी इलाके को पूरी तरह से सीलकर कर्फ्यू लगा दिया गया है. हिन्दपीढ़ी के गली-मुहल्लाें काे सैनिटाइज किया जा रहा है. जिस मकान में पीड़िता मलेशियाई महिला ठहरी थी, उस घर को सील कर घरवालों होम क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है. पुलिस अब सड़कों पर निकलने वालों से बेहद सख्ती से पेश आएगी. गिरफ्तार कर जेल भी भेज सकती है. इस बात के संकेत डीजीपी ने दे दिये हैं.

सीएम ने की अपील

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी कहा दिया है कि लॉकडाउन को लेकर सरकार गंभीर है. लोग इसका सख्ती से पालन करे. स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से बातकर पीपी गाउन और वेंटिलेटर की मांग की है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने जल्द मुहैया कराने का भरोसा दिलाया है.

रांची में सामने आया राज्य का पहला कोरोना केस

बता दें कि झारखंड में कोरोना का पहला मामला रांची में सामने आया है. मलेशियाई महिला में नोवल कोरोना होने की पुष्टि हुई है. फिलहाल यह महिला खेलगांव स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है. वहां से उसे रिम्स में भर्ती कराया जाएगा. सोमवार को इस महिला समेत 17 विदेशी नागरिकों को हिंदपीढ़ी इलाके के मस्जिद से निकालकर प्रशासन ने खेलगांव स्थित आइसोलेशन वार्ड में भेजा था.

(ब्यूरो रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें- जमशेदपुर: एमजीएम अस्पताल में कोरोना संदिग्ध 40 वर्षीय मरीज की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 31, 2020, 10:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading