COVID-19: पेइंग वार्ड से हटाए गए RJD सुप्रीमो लालू यादव, अब रिम्स निदेशक के बंगले में रहेंगे, जानें वजह
Ranchi News in Hindi

COVID-19: पेइंग वार्ड से हटाए गए RJD सुप्रीमो लालू यादव, अब रिम्स निदेशक के बंगले में रहेंगे, जानें वजह
कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए झारखंड सरकार ने फैसला लिया है.

DSP और जेल अधीक्षक की उपस्थिति में लालू प्रसाद की शिफ्टिंग के दौरान राजद (RJD) सुप्रीमो ने मीडिया के किसी सवाल का जवाब नहीं दिया. वहीं शिफ्टिंग के बाद लालू प्रसाद (Lalu Prasad Yadav) के स्वास्थ्य की चिकित्सकों ने जांच की.

  • Share this:
रांची. चारा घोटाला (Fodder Scam) मामले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को आखिरकार बुधवार को रिम्स के पेइंग वार्ड से सुरक्षा के बीच एम्बुलेंस में बैठाकर निदेशक के बंगला में शिफ्ट कर दिया गया. दरअसल, पेइंग वार्ड के तीसरे फ्लोर पर कोरोना पॉजिटिव (COVID-19) मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. वहीं लालू के सेवकों के कोरोना पॉजिटिव होने से भी उन पर खतरा और बढ़ गया था. अब लालू प्रसाद को पेइंग वार्ड से बंगला में शिफ्ट करने के बाद उनके समथकों और पार्टी के नेताओं ने राहत की सांस ली है. लालू समर्थक सुरेंद्र यादव ,युवा राजद के नेता सुनील यादव ,विजय यादव ने कहा कि आज उन लोगों ने राहत की सांस ली है क्योंकि रिम्स का पेइंग वार्ड उनके लिए सुरक्षित नहीं था.

सुरक्षा के बीच शिफ्ट हुए लालू

DSP और जेल अधीक्षक की उपस्थिति में लालू प्रसाद की शिफ्टिंग के दौरान राजद सुप्रीमो ने मीडिया के किसी सवाल का जवाब नहीं दिया. वहीं शिफ्टिंग  के बाद लालू प्रसाद के स्वास्थ्य की चिकित्सकों ने जांच की. लालू प्रसाद के स्वास्थ्य की जांच के बाद उनके चिकित्सक डॉ. उमेश प्रसाद ने कहा कि अभी लालू प्रसाद का स्वास्थ्य स्थिर है. चिकित्सक ने कहा कि नए जगह पर लालू प्रसाद को चिकित्सा और नर्सिंग की पूरी व्यवस्था की जा रही है. कमजोर दिख रहे लालू प्रसाद के सवाल पर चिकित्सक डॉ. उमेश प्रसाद ने कहा कि कोरोना के चलते लालू प्रसाद पेइंग वार्ड में टहल नहीं पाते थे. इस वजह से संभव है कि अब जब वह कुछ टहलेंगे तो स्वास्थ्य और सुधरेगा.



ये भी पढ़ें: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण से खुशी, पहाड़ों में एक साथ मनाई गई होली-दीवाली
बीमारियों से जूझ रहे हैं लालू प्रसाद

लालू प्रसाद 15 से ज्यादा बीमारियों से जूझ रहे हैं जिसमें कई गंभीर किस्म की हैं. ऐसे में प्रशासन ने लालू प्रसाद को कोरोना के संभावित खतरे से बचने के लिए उनको शिफ्ट कर दिया है. मालूम हो कि रिम्स के निवर्तमान निदेशक डॉ. डीके सिंह AIIMS भटिंडा के निदेशक बनने के बाद उन्होंने रिम्स निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया था. उसके बाद सरकार ने सबसे सीनियर प्रोफेसर  डॉ. मंजू गाड़ी को प्रभारी निदेशक बनाया है. वे अपने डॉक्टर क्वार्टर वाले आवास में ही रहती हैं, इसलिये बंगला खाली था जिसमे अब लालू को शिफ्ट किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज