लालू यादव से मुलाकात अब नहीं होगी आसान, बिना इजाजत RIMS में मिले तो होंगे क्वारंटाइन!
Ranchi News in Hindi

लालू यादव से मुलाकात अब नहीं होगी आसान, बिना इजाजत RIMS में मिले तो होंगे क्वारंटाइन!
बिहार चुनाव को लेकर कई नेता लालू यादव से कर चुके हैं मुलाकात. (फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) के मद्देनजर कई नेता और कार्यकर्ता इन दिनों रांची स्थित RIMS में भर्ती राजद सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) से मिलने पहुंच रहे हैं. इस मामले के सुर्खियों में आने के बाद जिला प्रशासन ने लिया फैसला.

  • Share this:
रांची. चारा घोटाला मामले में रांची (Ranchi) में जेल की सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (RJD Chief Lalu Yadav) इन दिनों रिम्स में भर्ती हैं. कोरोना वायरस महामारी के दौर में यूं तो लोगों से मिलने-मिलाने के चलन में कमी आई है, लेकिन बिहार में अगले कुछ महीनों में होने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) के मद्देनजर लालू यादव की व्यस्तता इन दिनों बढ़ गई है. जेल की सजा काट रहे लालू यादव से हर रोज बड़ी संख्या में नेता और कार्यकर्ता मिलने पहुंच रहे हैं. बिहार विधानसभा चुनाव में टिकट की आस लेकर पहुंचने वाले इन नेताओं की वजह से राजधानी रांची में कोरोना गाइडलाइन (COVID-19 Guideline) का उल्लंघन भी होता है. इसको लेकर विपक्षी दलों के नेताओं ने बयान दिए, तो अब रांची प्रशासन भी सतर्क हो गया है.

रांची जिला प्रशासन ने आज एक बैठक कर कोरोना गाइडलाइन का राजधानी में सख्ती से पालन कराने का फैसला किया है. राजद प्रमुख से मिलने आने वालों के लिए यह निर्णय बड़ा रोड़ा साबित हो सकती है. क्योंकि अब लालू यादव से मुलाकात आसान नहीं होगी. कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लागू सरकारी गाइडलाइन का अनुपालन अब लालू से मुलाकात करनेवालों पर भी लागू किया जाएगा. बिहार या दूसरे प्रदेश से लालू प्रसाद से मुलाकात करनेवालों को 14 दिनों के क्वारंटाइन किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें - लालू यादव से मिलने पहुंचा यह बॉलीवुड एक्टर, RJD से लड़ना चाहते हैं चुनाव



इस बारे में डीसी छवि रंजन ने बताया कि जो लोग भी दूसरे प्रदेशों से झारखंड आते हैं उन्हें सरकार के द्वारा जारी गाइडलाइन के तहत क्वारंटाइन होना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से मुलाकात करने जो लोग आते है और अगर वे प्रशासन से इसके लिए संपर्क नहीं करेंगे तो उन्हें भी क्वारंटाइन किया जाएगा. हालांकि लालू प्रसाद यादव से नेताओं की लगातार हो रही मुलाकात पर जिला प्रशासन कैसे नजर रखेगा, इस पर उपायुक्त कुछ नहीं बोले.
लालू को बायोडाटा दे रहे नेता
आपको बता दें कि बिहार में अगले कुछ महीनों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राजद से टिकट की आस में कई नेता या कार्यकर्ता इन दिनों बड़ी तादाद में रांची आ रहे हैं. ये सभी लोग राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मुलाकात कर उन्हें अपना बायोडाटा सौंप रहे हैं. इसको लेकर विपक्षी दल खासकर बीजेपी लगातार सवाल उठाती रही है. बीते दिनों बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने भी इस मामले पर सवाल उठाते हुए झारखंड सरकार का ध्यान इस ओर दिलाया था. इसके बाद से ही रांची में कोरोना गाइडलाइन के पालन और लालू यादव से नेताओं की मुलाकात चर्चा में है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज