Covid-19: झारखंड में एक सप्ताह और बढ़ सकता है लॉकडाउन, CM हेमंत जल्द लेंगे फैसला

मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि जिले में कोरोना की वजह से हुई अफरातफरी के माहौल से निजात मिली है. (सांकेतिक फोटो)

मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि जिले में कोरोना की वजह से हुई अफरातफरी के माहौल से निजात मिली है. (सांकेतिक फोटो)

मंत्री रामेश्वर उरांव (Rameshwar Oraon) ने ग्रामीण क्षेत्रों में शादी- विवाह में होने वाले भीड़ पर चिंता व्यक्त की. तथा किस प्रकार नियंत्रित किया जाए इस पर विचार करने की बात कही.

  • Share this:

रांची. कोरोना वायरस (Corona virus) को लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने सोमवार को अपने मंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की. इस दौरान सीएम सोरेन ने कई मुद्दों पर मंत्रियो से चर्चा की. अब कहा जा रहा है कि प्रदेश में एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन (Lockdown) को और बढ़ाया जा सकता है. बैठक में मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि दूसरे राज्यों से आने वाले शत प्रतिशत श्रमिकों की आरटीपीसीआर जांच सुनिश्चित की जाएगी. इसके बाद ही ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण की दर घटेगी. उन्होंने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को एक सप्ताह बढ़ाए जाने का सुझाव दिया. उन्होंने आंगनबाड़ी केंद्रों में उपचार के जरूरी संसाधन उपलब्ध कराए जाने की बात कही.

वहीं, मंत्री रामेश्वर उरांव ने ग्रामीण क्षेत्रों में शादी- विवाह में होने वाले भीड़ पर चिंता व्यक्त की. तथा किस प्रकार नियंत्रित किया जाए इस पर विचार करने की बात कही. उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन पर टारगेट फिक्स किए जाने तथा राज्य में फिजियोथैरेपी चिकित्सा की व्यवस्था कराए जाने की बात कही. इसी तरह मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने कहा कि चतरा जिले में स्थिति नियंत्रण में है. जिला प्रशासन द्वारा बेहतर कार्य किया जा रहा है. जिले में डॉक्टर तथा मेडिकल स्टाफ बढ़ाए जाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि मैं स्वयं ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक कर रहा हूं. उन्होंने राज्य सरकार से जिले में एंबुलेंस बढ़ाए जाने की बात कही.

 कार्य के लिए प्रचार-प्रसार किए जाने की बात कही

मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि जिले में कोरोना की वजह से हुई अफरातफरी के माहौल से निजात मिली है.  स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को और आगे बढ़ाने पर सहमति जताई। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जीविका तथा जीवन दोनों का ख्याल रखते हुए निर्णय ले रही है. मंत्री चंपई सोरेन ने संभावित कोरोना संक्रमण के तीसरे लहर की व्यवस्था तथा कल्याण विभाग के सभी अस्पतालों को बेहतर तरीके से संचालित किए जाने की बात कही. उन्होंने वैक्सीनेशन कार्य के लिए प्रचार-प्रसार किए जाने की बात कही.
कड़ाई से जांच सुनिश्चित किए जाने की बात कही

जानकारी के मुताबिक, कृषि मंत्री बादल 25 से 28 मई तक पूर्ण लॉकडाउन किए जाने पर विचार करने की बात कही. वैसे लोग जो अभी कोरोना संक्रमण की ड्यूटी में लगे हैं उन्हें मुक्त किए जाने पर विचार किए जाने की बात कही. वहीं, मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने सीमित संसाधनों के बेहतर उपयोग के लिए राज्य सरकार को सराहा. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से अब निजात मिलती दिख रही है. उन्होंने प्रवासी मजदूरों को रेलवे स्टेशनों पर ही कड़ाई से जांच सुनिश्चित किए जाने की बात कही.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज