कोरोना इफेक्ट: सदर अस्पताल रांची पहली बार कराया गया बंद, सभी मरीजों को डिस्चार्ज कर पूरे अस्पताल को किया जा रहा सेनेटाइज
Ranchi News in Hindi

कोरोना इफेक्ट: सदर अस्पताल रांची पहली बार कराया गया बंद, सभी मरीजों को डिस्चार्ज कर पूरे अस्पताल को किया जा रहा सेनेटाइज
सदर अस्पताल रांची पहली बार कराया गया बंद (फाइल फोटो)

उपाधीक्षक ने कहा कि अंजुमन इस्लामिया अस्पताल को मैटरनिटी अस्पताल (Hospital) के रूप में चलाने पर विचार हो रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2020, 5:36 PM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड के हिंदपीढ़ी (Hindpiri) की जिस महिला का सदर अस्पताल में प्रसव कराया गया था उसका COVID-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आज सदर अस्पताल को पूरी तरह खाली करा दिया गया और इन्फेक्शन को दूर करने के लिए पूरे अस्पताल में केमिकल का छिड़काव किया जा रहा है. इतना ही नहीं, पॉजिटिव मिली महिला का पति भी उसके साथ था जिसकी कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी. इसके बाद अस्पताल में उस समय मौजूद रहे 22 रोगी और परिजनों का सैम्पल लिया गया है. वही 4 डॉक्टर सहित 16 स्टाफ को होम क्वारंटाइन में भेज दिया गया.

अब सदर अस्पताल कब शुरू होगा इस सवाल पर सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. सव्यसाची मंडल ने कहा कि बड़ी संख्या में स्टाफ और डॉक्टर के क्वारंटाइन होने के बाद अब कहा नहीं जा सकता कि सदर अस्पताल कब शुरू होगा. उपाधीक्षक ने कहा कि अंजुमन इस्लामिया अस्पताल को मैटरनिटी अस्पताल के रूप में चलाने पर विचार हो रहा है.

सदर अस्पताल बंद होने का गरीब बीमार जनता पर पड़ेगा असर
आज जब सदर अस्पताल को खाली कराया गया उस समय वहां 45 मरीज भर्ती थे. मिली जानकारी के अनुसार सभी बीमार मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया. जो मरीज ज्यादा गंभीर थे उन्हें दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है. अब जब सदर अस्पताल कम से कम 48 घंटे के लिए बन्द रहेगा तो आम गरीब लोगों के स्वस्थ्य और इलाज कराने पर असर पड़ेगा.
हिंदपीढ़ी इलाके में अब तक 19 मामले आ चुके हैं सामने


बता दें कि झारखंड में हॉटस्पॉट बनकर उभरे रांची के हिंदपीढ़ी इलाके में अब तक 19 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. प्रशासन ने इस पूरे इलाके को सील कर दिया है. बीते 31 मार्च को हिंदपीढ़ी में एक मलेशियन युवती के रूप में राज्य का पहला कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया था. वहीं पूरे झारखंड में कोविड-19 के चार नए मामले सामने आए हैं. इनमें राजधानी रांची से तीन और सिमडेगा से एक मामला का पता चला है. इससे राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 38 हो गई है. राज्य के स्वास्थ्य सचिव नितिन मदन कुलकर्णी ने यह जानकारी दी है. रांची के हिंदपीढ़ी में दो नए संदिग्धों में कोरोना वायरस की पुष्टि की गई है.

ये भी पढ़ें: COVID-19: झारखंड में कोरोना के 4 और पॉजिटिव केस, 38 हुई संक्रमितों की कुल संख्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज