Covid-19 Update: झारखंड में कोरोना वायरस से 7 की मौत, अब तक इतने लोगों ने तोड़ा दम

एक दिन के भीतर राज्य में कुल 16,121 नमूनों की जांच की गयी. (सांकेतिक फोटो)

एक दिन के भीतर राज्य में कुल 16,121 नमूनों की जांच की गयी. (सांकेतिक फोटो)

झारखंड (Jharkhand) में 1,10,278 संक्रमितों में से 1,07,496 लोग ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं. इसके अलावा 1,796 संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में जारी है.

  • Share this:

रांची. झारखंड (Jharkhand) में पिछले चौबीस घंटों में कोरोना वायरस (Corona virus) संक्रमण के कारण सात लोगों की मौत हो गई. इसके साथ राज्य में संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 986 हो गयी है. यहां संक्रमण के 92 नये मामले सामने आये जिन्हें मिलाकर राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या अब बढ़कर 1,10,278 हो गयी है. स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने यह जानकारी दी.

विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य के 1,10,278 संक्रमितों में से 1,07,496 लोग ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं. इसके अलावा 1,796 संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में जारी है. बीते चौबीस घंटों में राज्य में सात संक्रमितों की मौत हुई जिनमें से धनबाद में दो संक्रमित व्यक्तियों की और एक-एक संक्रमित की रांची, रामगढ़, पलामू, गढ़वा तथा पूर्वी सिंहभूम में मौत हुई. एक दिन के भीतर राज्य में कुल 16,121 नमूनों की जांच की गयी.

अलग-अलग जिलों में 6 लोगों की मौत हो गई थी

वहीं, शनिवार को खबर सामने आई थी कि कोरोना संक्रमण की धीमी रफ्तार के बीच झारखंड में COVID-19 इन्फेक्शन के चलते लोगों की होने वाली मौत का सिलसिला जारी है. पिछले 24 घंटों में ही इस महामारी (Coronavirus pandemic) की वजह से प्रदेश के अलग-अलग जिलों में 6 लोगों की मौत हो चुकी है. गुरुवार को रांची में तीन, बोकारो, पूर्वी सिंहभूम और हजारीबाग में 1-1 लोगों की मौत कोरोना की वजह से हुई है. वहीं, 233 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई. अभी भी राज्य में कोरोना के 1926 एक्टिव केस हैं. गौर करने वाली बात यह है कि प्रदेश में अब तक 977 लोगों की जान कोविड-19 की वजह से जा चुकी है.
कोविड सेंटर में भर्ती कराया गया है

स्वास्थ्य विभाग, झारखंड की ओर से जारी आंकड़े के अनुसार, पिछले 24 घंटों में राज्य में 22 हजार 553 सैम्पल की जांच हुई, जिसमें से 233 सैम्पल में कोरोना वायरस का संक्रमण मिला है. संक्रमित पाए गए लोगों में से वैसे लोग जिनमें कोई लक्षण नहीं दिखा, उन्हें सरकारी मॉनिटरिंग में होम आइसोलेशन में रखा गया है. वहीं लक्षण वाले लोगों को कोविड सेंटर में भर्ती कराया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज