होम /न्यूज /झारखंड /रांची : पॉजिटिव बता कोरोना ड्यूटी से लापता डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के सैंपल किए जा रहे क्रॉस चेक

रांची : पॉजिटिव बता कोरोना ड्यूटी से लापता डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के सैंपल किए जा रहे क्रॉस चेक

उपायुक्त छवि रंजन ने बैठक कर कई निर्देश जारी किए.

उपायुक्त छवि रंजन ने बैठक कर कई निर्देश जारी किए.

अब डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों को अपने संक्रमित होने की रिपोर्ट एसडीओ से प्रमाणित करवानी होगी, तभी कोविड ड्यूटी से मि ...अधिक पढ़ें

रांची. कोरोना की बहानेबाजी महंगी पड़ सकती है. महामारी के दौरान कई ऐसे डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी और अधिकारी निजी लैब से कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट देकर अपनी ड्यूटी से अनुपस्थित हैं. लेकिन अब उन्हें कोविड रिपोर्ट एसडीओ से प्रमाणित करानी होगी. जिला प्रशासन रांची को यह फैसला इसलिए लेना पड़ा कि डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी, पैरामेडिक्स और वैसे पदाधिकारी/कर्मी जिन्हें कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए गठित कोषांग में प्रतिनियुक्त किए गए हैं, वे बहाने बनाकर अब भी अपनी सेवा नहीं दे रहे. इसलिए रांची के उपायुक्त ने फैसला किया कि अब इन डॉक्टरों और कर्मचारियों को अपनी कोविड रिपोर्ट एसडीओ से प्रमाणित करानी होगी. बिना एसडीओ द्वारा प्रमाणित रिपोर्ट जिला प्रशासन अमान्य करार देगा.

वैसे डॉक्टर, अधिकारी मजिस्ट्रेट, पैरामेडिक्स और स्वास्थ्यकर्मी जो निजी लैब से कोविड पॉजिटिव होने की रिपोर्ट का हवाला देकर ड्यूटी से अनुपस्थित हैं, अब उनके घरों से सैंपल कलेक्ट कराया जा रहा है. उपायुक्त के निर्देश के बाद सोमवार से सैम्पल कलेक्शन का काम भी शुरू कर दिया गया है और कई पदाधिकारियों और डॉक्टरों के कोविड सैम्पल उनके घर से सैंपल कलेक्ट किए गए थे. आज भी कई ऐसे डॉक्टर, पैरामेडिक्स, ऑफिसर और मजिस्ट्रेट जो कि अपनी ड्यूटी से अनुपस्थित हैं, उनके घर से सैंपल कलेक्ट किया गया.

वहीं, रांची के उपायुक्त छवि रंजन की अध्यक्षता में कोविड-19 के रोकथाम के लिए गठित विभिन्न कोषांगों की समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई. समाहरणालय सभागार में आयोजित बैठक में समीक्षा के क्रम में सभी कोषांगों के नोडल पदाधिकारियों से अद्यतन स्थिति के बारे विस्तार से जानकारी ली गई. बैठक के दौरान उपायुक्त ने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के अन्तर्गत प्रतिनियुक्त किए गए सभी मजिस्ट्रेट के द्वारा की गई कार्रवाई से संबंधित रिपोर्ट प्रतिदिन समर्पित करने का निर्देश दिया.

उपायुक्त छवि रंजन ने टेस्टिंग सेल की समीक्षा के क्रम में एसडीएम रांची सदर को टेस्टिंग की संख्या में वृद्धि करने का निर्देश दिया. कांटेक्ट ट्रेसिंग सेल की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने कोषांग के नोडल पदाधिकारी को कांटेक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने का निर्देश दिया. इसके साथ ही होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को किट पहुंचाने का भी निर्देश दिया. एम्बुलेंस सेल की समीक्षा के क्रम में बताया गया कि 13 एम्बुलेंस कार्यरत हैं. 8 की संख्या में मोक्ष वाहन कार्यरत हैं. उपायुक्त ने निर्देश दिया कि इन सभी संसाधनों का समुचित उपयोग सुनिश्चित करें. छवि रंजन ने बताया कि जिले में ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं, साथ ही इसकी मॉनिटरिंग भी की जा रही है.

Tags: Action against Doctors, Corona duty, Covid Positive

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें