Jharkhand: क्‍या राजस्थान-पंजाब के बाद झारखंड कांग्रेस में पनपा 'संकट', 4 MLA दिल्‍ली में केसी वेणुगोपाल करेंगे मुलाकात

झारखंड कांग्रेस में भी काफी समय से बवाल चल रहा है. (सांकेतिक तस्वीर)

Jharkhand Congress: राजस्‍थान और पंजाब के बाद झारखंड कांग्रेस में भी संकट दिखाई दे रहा है. कांग्रेस के चार विधायक इरफान अंसारी, उमाशंकर अकेला, राजेश कच्छप और ममता देवी दिल्‍ली कूच कर चुके हैं और आज वह कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल से मुलाकात करेंगे. इससे पहले ये सभी झारखंड के प्रभारी आरपीएन सिंह से भी मिल चुके हैं.

  • Share this:
    झारखंड/ नई दिल्‍ली. पिछले काफी दिनों से कांग्रेस में संकट जो दौर शुरू हुआ था वो थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस समय राजस्‍थान में सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) और पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट के बीच खींचतान देने को मिली रही है, तो वहीं पंजाब में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच घमासान जारी है. यही नहीं, कई बार छत्‍तीसगढ़ में भी मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल और टीएस सिंह देव के बीच विवाद ने सुर्खियां बटोरी हैं. इस बीच झारखंड कांग्रेस (Jharkhand Congress) में संकट की खबरें चर्चा में हैं.

    दरअसल, कांग्रेस के चार विधायक इरफान अंसारी, उमाशंकर अकेला, राजेश कच्छप और ममता देवी दिल्ली की ओर कूच कर गए हैं. जानकारी के मुताबिक, यह राज्‍य के नेतृत्‍व से सभी विधायक नाराज चल रहे हैं. यही नहीं, ये सभी विधायक बुधवार यानी आज दिल्ली में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल से मुलाकात करेंगे.

    इरफान अंसारी ने किया ये ट्वीट
    कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी ने ट्वीट कर दिल्‍ली जाने की बात की जानकारी दी. उन्‍होंने लिखा,' संगठन को मजबूत करना हमारा लक्ष्य है. झारखंड कांग्रेस को धार देने के लिए मेरे नेतृत्व में चार विधायक उमाशंकर अकेला, राजेश कच्छप और ममता देवी पहले झारखंड के इंचार्ज आरपीएन सिंह से मिले थे और बुधवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल से मुलाकात करेंगे.



    जानकारी के मुताबिक, दिल्‍ली की और कूच कर रहे इन चारों विधायकों ने झारखंड कांग्रेस में कार्यकर्ताओं को सम्‍मान देने की बात उठाई है, ताकि उन्‍हें निगम और आयोग में जगह मिल सके. यही नहीं, कुछ दिने पहले भी इन विधायकों ने कहा था कि झारखंड के कांग्रेस कार्यकर्ता खुश नहीं हैं और उनको तरजीह नहीं मिली को पार्टी का नुकसान हो सकता है.

    बहरहाल, झारखंड में हेमंत सोरेन कैबिनट में एक मंत्री पद को लेकर कवायद चल रही है. इस वजह से सीएम खुद कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी समेत कई नेताओं से मिल चुके हैं. जबकि झारखंड कांग्रेस के चीफ भी दिल्‍ली के चक्‍कर लगाकर लौटे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.