Home /News /jharkhand /

नक्सलियों-आपराधिक गिरोहों को आर्म्स सप्लाइ करता था CRPF जवान, ATS ने ऐसे दबोचा

नक्सलियों-आपराधिक गिरोहों को आर्म्स सप्लाइ करता था CRPF जवान, ATS ने ऐसे दबोचा

नक्सलियों को हथियर आपूर्ति के आरोप ने सीआरपीएफ का जवान गिरफ्तार.

नक्सलियों को हथियर आपूर्ति के आरोप ने सीआरपीएफ का जवान गिरफ्तार.

JHARKHAND NEWS: ATS के हत्थे चढ़े अविनाश कुमार उर्फ चुन्नू सीआरपीएफ में 182 बटालियन पुलवामा में पदस्थापित था, लेकिन 4 माह से फरार था. 2017 से कश्मीर के पुलवामा में पदस्थापित था. अविनाश कुमार इससे पूर्व वो लातेहार और जगदलपुर मे में भी पदस्थापित था. ATS की गिरफ्त में आए ऋषि कुमार रांची के हटिया में रहकर पूर्व में कंस्ट्रक्शन का कार्य करता था. वहीं उसने 2 ठेकेदारों का नाम भी बताया है. संजय कुमार सिंह और मुजाहिद नाम के इन ठेकेदारों की तलाश ATS की टीम कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

रांची. प्रशांत बोस उर्फ किशन दा की गिरफ्तारी का असर अब दिखने लगा है. झारखंड ATS ने इसी कड़ी में सफलता हासिल करते हुए नक्सलियों को आर्म्स और गोला बारूद सप्लाई करने वाले एक हैंडलर को गिरफ्तार किया. सप्लायर और कोई नहीं बल्कि सीआरपीएफ के एक जवान है जो नक्सलियों को आर्म्स आपूर्ति करता था. सीआरपीएफ जावान अविनाश कुमार उर्फ चुन्नू शर्मा नक्सलियों को आर्म्स सप्लाई करने मे अहम भूमिका निभाता था. इसके साथ दो अन्य आरोपी ऋषि कुमार और पंकज कुमार सिंह को भी दबोचा गया है. तीनों आरोपी बिहार के ही रहनेवाले हैं.

बताया जा रहा है कि अविनाश कुमार उर्फ चुन्नू सीआरपीएफ में 182 बटालियन पुलवामा में पदस्थापित था, लेकिन 4 माह से फरार था. 2017 से कश्मीर के पुलवामा में पदस्थापित था. अविनाश कुमार इससे पूर्व वो लातेहार और जगदलपुर मे में भी पदस्थापित था. ATS की गिरफ्त में आए ऋषि कुमार रांची के हटिया में रहकर पूर्व में कंस्ट्रक्शन का कार्य करता था. वहीं उसने 2 ठेकेदारों का नाम भी बताया है.

संजय कुमार सिंह और मुजाहिद नाम के इन ठेकेदारों की तलाश ATS की टीम कर रही है. इनके साथ ही पंकज कुमार सिंह बिहार के मुजफ्फरपुर के सकरा थाना क्षेत्र का रहनेवला है. वर्तमान में धनबाद के भूली इलाके में रहकर कोयले का कारोबार कर रहा था. आरोपियों के पास से 450 कारतूस इंसास रायफल के कारतूस बरामद किया गया.

मामले की जानकारी देते हुए ATS SP प्रशांत आनन्द ने बताया कि भाकपा माओवादी और आपराधिक संगठनों को हथियार सप्लाई करता था. माओवादियों के अलावा अमन साव, हरेंद्र यादव, गया जेल में लल्लू खान शेरघाटी को भी हथियार सप्लाइ करता था. ये सभी आरोपियों से टेलीग्राम और व्हाट्सएप्प से सम्पर्क में रहकर कारोबार करते थे. इस गिरोह के द्वारा नक्सलियों को कई खेप में आर्म्स सप्लाई करायी गई है. वहीं दूसरे संगठनों को आर्म्स सप्लाई करते थे.

जांच में ये बात भी समने आई है कि ये कारतूस नागालैंड से लाया जाता थ. बता दें कि रांची पंकज कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया है. वहीं अविनाश और ऋषि को बिहार से गिरफ्तार किया गया है. अबतक जो जानकारी मिली है उसके अनुसार AK-47 सहित अनु हथियार और हजारों करतूस भी इनके द्वारा नक्सलियों और अपराधियों को सप्लाइ किया गया है.

Tags: Jharkhand news, Ranchi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर