Home /News /jharkhand /

...तो क्‍या झारखंड में बंद कर दी गईं स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन?

...तो क्‍या झारखंड में बंद कर दी गईं स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन?

Jharkhand News: पूर्व-मध्‍य रेलवे और पूर्व रेलवे की लिस्‍ट में स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन का नाम नहीं है. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Jharkhand News: पूर्व-मध्‍य रेलवे और पूर्व रेलवे की लिस्‍ट में स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन का नाम नहीं है. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Jharkhand Train latest News: भारतीय रेल ने ट्रेनों का परिचालन पूर्व की तरह करने की घोषणा कर दी है. इसके साथ ही यात्री ट्रेनों से स्‍पेशल ट्रेन का टैग हट गया है. नई व्‍यवस्‍था के साथ पूर्व-मध्‍य रेलवे और पूर्व रेलवे की ओर से ट्रेनों की संशोधित सूची जारी की गई है. इसमें स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी एक्‍सप्रेस का नाम शामिल नहीं है.

अधिक पढ़ें ...

    रांची. झारखंड के रेल यात्रियों के लिए बड़ी खबर है. भारतीय रेल ने उन्‍हें तगड़ा झटका दिया है. पैसेंजर ट्रेनों का कोरोना काल से पूर्व की तरह परिचालन को लेकर भारतीय रेलवे ने बड़ी घोषणा की थी. इसके तहत अब सभी ट्रेनें स्‍पेशल नहीं, बल्कि पूर्व की तरह सामान्‍य ट्रेन की भांति चलेंगी. इसके बाद पूर्व-मध्‍य रेलवे ने 148 और पूर्व रेलवे ने 218 ट्रेनों की लिस्‍ट जारी की. इन ट्रेनों का परिचालन सामान्‍य तरीके से किया जाएगा. पूर्व-मध्‍य रेलवे की ओर से जारी लिस्‍ट में धनबाद-टाटा स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस का नाम शामिल नहीं है. दूसरी तरफ, पूर्व रेलवे की ओर से जारी सूची में रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन का नाम नहीं है. ऐसे में असमंजस की स्थिति उत्‍पन्‍न हो गई है. क्‍या इन दोनों ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया है या फिर चूक के चलते इनका नाम लिस्‍ट में शामिल नहीं है? फिलहाल रेलवे की ओर से जारी लिस्‍ट के अनुसार स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन का परिचालन नहीं होगा.

    जानकारी के मुताबिक, स्वर्णरेखा एक्सप्रेस के बंद होने के संकेत पहले ही मिल गए थे, लेकिन पर बाबाधाम जाने वाली रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन को दुमका तक चलाने का प्रस्ताव था. अब रेलवे की ओर से जारी सूची में इनका नाम शामिल न होने से साफ है कि रेलवे फिलहाल इसका परिचालन नहीं करेगा. रेलवे के इस फैसले से यात्रियों में मायूसी है. इन दोनों ट्रेन से बड़ी संख्‍या में यात्री सफर करते थे. ऐसे में इसके बंद होने से यात्रियों में नाखुशी है. बता दें कि स्‍वर्णरेखा एक्‍सप्रेस ट्रेन छोटी-बड़ी 10 स्‍टेशनों पर रुकती हुई धनबाद से टाटा और फिर टाटा से धनबाद आती-जाती थी. रांची-देवघर इंटरसिटी ट्रेन से भी बड़ी संख्‍या में यात्री बाबा भोलेनाथ के दर्शन हेतु राजधानी रांची से देवघर तक आते थे.

    धनबाद से पटना का ट्रेन किराया 340 रुपये तक हुआ कम

    बता दें कि भारतीय रेल ने कोरोना संक्रमण काल के पूर्व की तरह ही ट्रेनों का परिचालन करने की घोषणा की है. इसके साथ ही ट्रेनें अब स्‍पेशल स्‍टेटस के साथ नहीं चलेंगी. रेलवे के इस फैसले से स्‍पेशल ट्रेन चार्ज के तौर पर वसूली जाने वाली राशि भी अब नहीं ली जाएगी. इस तरह से यात्री ट्रेनों का किराया कम हो गया है. बता दें कि शुरुआत में कोरोना वायरस से फैले संक्रमण को रोकने के लिए ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से बंद कर दिया गया था. बाद में पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन स्‍पेशल स्‍टेटस के साथ चरणबद्ध तरीके से शुरू किया गया था. अब इसे पूरी तरह से सामान्‍य करने की घोषणा कर दी गई थी.

    Tags: Indian Railways, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर