Home /News /jharkhand /

disabled child prevented from boarding flight at ranchi airport civil aviation minister jyotiraditya scindia orders investigation jhnj

रांची एयरपोर्ट पर दिव्यांग बच्चे को फ्लाइट में चढ़ने से रोका, मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया कराएंगे जांच

इस मामले में नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जांच का भरोसा दिलाया है.

इस मामले में नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जांच का भरोसा दिलाया है.

Ranchi Airport News: रांची एयरपोर्ट अथॉरिटी ने पूरे मामले पर सफाई देते हुए कहा कि बच्चा काफी पैनिक और अग्रेसिव था. वह दूसरे यात्रियों की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर सकता था. इसलिए उस फ्लाइट में सवार नहीं हो पाया. लेकिन अगले दिन रविवार को परिजन समेत बच्चे को दूसरी फ्लाइट से हैदराबाद भेजा गया.

अधिक पढ़ें ...

रांची. रांची एयरपोर्ट पर दिव्यांग बच्चे (specially-abled child) को इंडिगो की फ्लाइट में सवार होने से रोक दिया गया. इस मामले को लेकर काफी बवाल मचा और कई यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया. इसके बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी और एयरलाइन कंपनी दोनों की तरफ से सफाई पेश की गई.

रांची एयरपोर्ट अथॉरिटी ने दूसरे यात्रियों की सुरक्षा का हवाला देते हुए कहा कि बच्चा काफी पैनिक और अग्रेसिव था. वह दूसरे यात्रियों की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर सकता था. हालांकि, अगले ही दिन रविवार को उसके परिवार को अपने गंतव्य स्थान पर पहुंचा दिया गया.

उधर, दिव्यांग बच्चे को विमान से यात्रा करने देने से रोके जाने पर नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जांच का भरोसा दिलाया है. उन्होंने ट्वीट कर यह जानकारी दी है.

जानकारी के मुताबिक गत शनिवार को दिव्यांग बच्चा अपने अभिभावक के साथ रांची से हैदराबाद के लिए रवाना होने वाला था. मगर किन्हीं कारणों से एयरलाइंस के कर्मियों ने उन्हें जाने से रोक दिया और रांची के एक होटल में ठहराया. परिजनों का कहना है कि जाने की अनुमति नहीं देने से उन्हें परेशानी हुई.

बवाल मचने पर रांची एयरपोर्ट निदेशक केएल अग्रवाल ने सफाई देते हुए कहा कि फैमिली अपने बच्चे को बोकारो से लेकर आई थी. उन्हें हैदराबाद जाना था. एयरपोर्ट पर बच्चे को व्हील चेयर उपलब्ध कराया गया. लेकिन बच्चे को जब बोर्डिंग के लिए ले जाया गया तो उस दौरान वह एग्रेसिव हो रहा था. लिहाजा वह फ्लाइट पर नहीं जा सका. बाद में परिजन को दूसरी फ्लाइट से जाने का विकल्प दिया गया.

निदेशक के मुताबिक पूरे मामले में भ्रम फैलाया जा रहा है कि रांची एयरपोर्ट पर दिव्यांग बच्चे को सहयोग नहीं किया गया. हमलोगों ने बच्चे और परिजनों को होटल में ठहराने की व्यवस्था की. और दूसरे दिन फ्लाइट से हैदराबाद भेजा.

Tags: Jharkhand news, Jyotiraditya Scindia, Ranchi Airport

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर