लाइव टीवी

झारखंड में 'आप' को मजबूत करेंगे अजय कुमार, बने प्रदेश अध्यक्ष
Ranchi News in Hindi

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: March 18, 2020, 4:11 PM IST
झारखंड में 'आप' को मजबूत करेंगे अजय कुमार, बने प्रदेश अध्यक्ष
डॉ अजय कुमार 'आप' से पहले झारखंड कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं. (फाइल फोटो)

पिछले साल झारखंड विधानसभा चुनाव से ठीक पहले 19 सितम्बर को उन्होंने कांग्रेस को बाय-बाय कहकर दिल्ली में आप का दामन थाम लिया.

  • Share this:
रांची. आम आदमी पार्टी (AAP) ने डॉ अजय कुमार (Ajoy Kumar) को झारखंड इकाई का अध्यक्ष बनाया है. इसी के साथ थोड़े अंतराल के बाद फिर से सूबे की सियासत में उनकी एंट्री हुई है. पिछले साल झारखंड विधानसभा चुनाव से ठीक पहले 19 सितम्बर को उन्होंने कांग्रेस (Congrees) को बाय-बाय कहकर दिल्ली में आप का दामन थाम लिया. वह झारखंड कांग्रेस (Jharkhand Congress) के अध्यक्ष थे. लेकिन लोकसभा चुनाव में झारखंड में पार्टी की हार के बाद उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था.






लोकसभा चुनाव के बाद दिया था प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा 



दरअसल लोकसभा चुनाव में खराब नतीजे के बाद झारखंड कांग्रेस के पुराने नेताओं ने अजय कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. इन नेताओं ने टिकट बंटवारे में मनमानी का आरोप लगाते हुए हार का पूरा ठीकरा अजय कुमार पर फोड़ दिया था. रांची स्थित कांग्रेस कार्यालय में पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय और अजय कुमार के समर्थकों के बीच जमकर झड़प हुई थी. अजय कुमार ने सुबोधकांत सहाय और अन्य पुराने नेताओं पर गंभीर आरोप लगाते हुए प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. उनके बाद पूर्व आईपीएस अधिकारी रामेश्वर उरांव को प्रदेश कांग्रेस का नया अध्यक्ष बनाया गया.

2014 में थामा था कांग्रेस का दामन

बता दें कि साल 2011 में जेवीएम ज्वाइन करने के बाद अजय कुमार ने जमशेदपुर सीट से लोकसभा उपचुनाव लड़ा था और जीते थे. लेकिन 2014 में वो जेवीएम के टिकट पर जमशेदपुर में लोकसभा चुनाव हार गये. जिसके बाद उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया. राहुल गांधी ने उनपर भरोसा जताते हुए उन्हें प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया. अजय कुमार 2019 में भी जमशेदपुर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन यह सीट जेएमएम के पाले में चली गई. इसलिए वो चुनाव नहीं लड़ पाए. अजय कुमार का करियर अस्थिर रहा है. पहले वो मेडिकल प्रोफेशन में गये, फिर आईपीएस बने. जमशेदपुर एसपी के रूप में उन्होंने काफी नाम कमाया. बाद में आईपीएस की नौकरी छोड़कर टाटा ज्वाइन किया. टाटा को छोड़कर 2011 में जेवीएम से सियासत में कदम रखा.


ये भी पढ़ें- मॉब लिंचिंग के शिकार तबरेज अंसारी की पत्नी पहुंची विधानसभा, सरकारी नौकरी की मांग

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 18, 2020, 4:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading