रांची: औषधि नियंत्रण विभाग की बड़ी कार्रवाई, 70 लाख की प्रतिबंधित दवाएं बरामद

 (प्रतीकात्मक तस्वीर: Pixabay)
(प्रतीकात्मक तस्वीर: Pixabay)

NDPS एक्ट 1985 के अनुसार इस तरह की दवाओं का बिना लाइसेंस के स्टोर करना और बेचना गंभीर किस्म का अपराध है और इसके लिए अधिकतम 20 साल तक की सजा का प्रावधान है.

  • Share this:
रांची. रातू थाने के सिमालिया में औषधि नियंत्रण विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 70 लाख की प्रतिबंधित दवा बरामद की है. 21 सितंबर को गुमला थाना ने नशे की दवा के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया था. जिसके बाद गिरफ्तार किये गए आरोपी की निशानदेही पर औषधि निदेशालय की टीम ने रातू थाने की पुलिस के साथ मिलकर बुधवार को सिमालिया में छापेमारी की और नशे में इस्तेमाल की जाने वाली प्रतिबंधित दवाओं का जखीरा बरामद किया.

बुधवार को की गई छापेमारी के नेतृत्व कर रहे औषधि निरीक्षक रामकुमार झा ने न्यूज़18 से कहा कि एक दुकान से रांची और आसपास के इलाकों में ड्रग का कारोबार अंबुज दो सहयोगियों के साथ कर रहा था. सिमालिया में बिना लाइसेंस और बोर्ड के नशा में इस्तेमाल हो रही मादक और मन प्रभावी दवाओं (नारकोटिक एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस) को नशा करने वालों के बीच बेचा जाता था. NDPS एक्ट 1985 के अनुसार इस तरह की दवाओं का बिना लाइसेंस के स्टोर करना और बेचना गंभीर किस्म का अपराध है और इसके लिए अधिकतम 20 साल तक की सजा का प्रावधान है.


औषधि निरीक्षक प्रतिमा झा के अनुसार करीब 40 हजार बोतल कोडीन ग्रुप का सिरप जिसमे खांसी के इस्तेमाल में लायी जाती है जिसमें विंसीरेक्स, कोरेक्स, फैन्सीरेक्स, रेसकोफ और टेबलेट्स ट्रामाडॉल, नींद के लिए इस्तेमाल होने वाली दवा Nitrossan-10, Penta zocian, बड़ी खेप बरामद किया है. मिली जानकारी के अनुसार अंबुज और उसके सहयोगी इस गोरखधंधे में लगे थे. गुमला में उसके सहयोगी की गिरफ्तारी के बाद से उसे छापेमारी की भनक लग गयी थी और वह फरार हो गया.



NDPS act 1985 (Narcotic Drugs and Psychotropic Substances Act, 1985) की धारा 21, 22, 29 के तहत रातू थाने में मामला दर्ज किया और मादक एवम मन प्रभावी पदार्थ के अवैध कारोबार में आरोपी पर दोष सिद्ध होने पर 20 वर्ष तक की सजा का प्रावधान है. करीब 5 घंटे चली छापेमारी अभियान में औषधि नियंत्रण निदेशालय के औषधि निरीक्षक रामकुमार झा, प्रतिभा झा, अमित कुमार के साथ रातू थाना की पुलिस शामिल थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज