Assembly Banner 2021

रांची: कोरोना संक्रमित के शव को 14 घंटे बाद नसीब हुई दो गज जमीन, दफनाने को लेकर दिनभर हुआ हंगामा

रांची में कोरोना संक्रमित मरीज के शव को दफनाने की कोशिश हुई, तो लोगों ने सड़क पर उतरकर विरोध किया

रांची में कोरोना संक्रमित मरीज के शव को दफनाने की कोशिश हुई, तो लोगों ने सड़क पर उतरकर विरोध किया

कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) बुजुर्ग की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार को लेकर रांची प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी. शव को जैसे ही रातु रोत कब्रिस्तान ले जाया गया, स्थानीय लोग विरोध करने लगे.

  • Share this:
रांची. रिम्स (RIMS) में कोरोना संक्रमित (Corona Infected) 60 वर्षीय बुजुर्ग की मौत के बाद शव को दफनाने को लेकर रातु रोड कब्रिस्तान के पास जमकर हंगामा हुआ. स्थानीय लोग वहां शव को दफनाने का विरोध कर रहे थे. लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाते हुए बड़ी संख्या में लोग विरोध में सड़क पर उतर आए. प्रशासन ने उन्हें समझाने-बुझाने की कोशिश की, लेकिन सब बेकार साबित हुई. इस दौरान रिम्स में एंबुलेंस में मृतक का शव पड़ा रहा. रविवार सुबह 9 बजे बुजुर्ग की मौत हुई. करीब 14 घंटे बाद रात दो बजे शव को दो गज जमीन नसीब हुई. प्रशासन ने देर रात शव को दफनाया. इस दौरान परिवार के लोग दूर खड़े रहे. परिवारवालों को शव के पास नहीं जाने दिया गया.

कोरोना पॉजिटिव बुजुर्ग की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार को लेकर रांची प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी. शव को जैसे ही रातु रोत कब्रिस्तान ले जाया गया, विरोध में स्थानीय लोग सड़क पर उतर आए और हंगामा करने लगे. प्रदर्शनकारी शव को वहां दफनाने से कोरोना फैलने की आशंका जाहिर कर रहे थे. हालांकि, प्रशासन ने लोगों को समझाने की कोशिश की, लेकिन प्रशासन के निर्देशों की अवहेलना करते हुए लोग सड़क पर उतरकर हंगामा करते रहे. लोग लॉकडाउन का उल्लंघन करते नजर आए. हंगामे की सूचना मिलने पर वरीय अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने की कोशिश की, पर बात नहीं बनी. आखिरकार प्रशासन को बैकफुट पर आना पड़ा.

विरोध करने वालों पर होगी कार्रवाई
सिटी एसपी ने कहा की पूरी स्थिति पर प्रशासन की नजर है. लोगों को समझाया गया है. लॉकडाउन का पालन करने के लिए लोगों से अपील की गई है. जिस वजह से विरोध हो रहा है, उस पर प्रशासन विचार कर रहा है. ट्रैफिक एसपी ने भी साफ किया कि जो लोग लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए सड़क पर आए, उनकी सीसीटीवी कैमरे से पहचान की गई है. उनलोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.
देर रात शव को दफनाया


दिनभर पुलिस-प्रशासन रातु से बरियातु कब्रिस्तान तक शव को दफनाने के लिए प्रयास करता रहा, लेकिन स्थानीय लोगों के विरोध के चलते संभव नहीं हो पाया. हालांकि, देर रात दो बजे प्रशासन को शव को दो गज जमीन दिलाने में कामयाबी हासिल हुई. मृतक रांची के हिंदपीढ़ी में मिलने वाली दूसरी कोरोना संक्रमित महिला का पति था. इस परिवार के छह सदस्यों में कोरोना संक्रमण पाया गया. सभी का रिम्स के कोविड-19 अस्पताल में इलाज चल रहा है. इलाज के दौरान रविवार सुबह 9 बजे बुजुर्ग ने ने दम तोड़ा. यह झारखंड में कोरोना वायरस से दूसरी मौत है. इससे पहले 75 वर्षीय कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की बोकारो में मौत हो गई.

राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 19 पर पहुंची 
झारखंड के रांची और बोकारो जिले कोरोना संक्रमण के लिहाजा से हॉटस्पॉट साबित हुए हैं. रांची के हिंदपीढ़ी में कुल 8 और बोकारो में भी 8 मामले अबतक सामने आए हैं. इसके अलावा दो हजारीबाग और एक कोडरमा में संक्रमित मरीज मिले हैं. कुल 19 कोरोना पॉजिटिव अभी तक राज्य में सामने आए हैं.

इनपुट- ओमप्रकाश

ये भी पढ़ें-  Covid-19 Update: झारखंड में कोरोना के 2 और मामले, संक्रमितों की संख्या हुई 19

   

 

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज