लाइव टीवी

Jharkhand Assembly Election: धन-बल का उपयोग करने वाले प्रत्याशियों व उनके समर्थकों पर EC की पैनी नजर

Bhuwan Kishore Jha | News18 Jharkhand
Updated: November 11, 2019, 8:59 AM IST
Jharkhand Assembly Election: धन-बल का उपयोग करने वाले प्रत्याशियों व उनके समर्थकों पर EC की पैनी नजर
प्रत्याशी पर चुनाव आयोग विशेष नजर रख रही है

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 (Jharkhand Assembly Election 2019) के दौरान धन-बल (Money power) का उपयोग करने वाले प्रत्याशियों (Candidates) और उनके समर्थकों (Supporters) पर चुनाव आयोग (Election Commission) की पैनी नजर है.

  • Share this:
रांची. झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 (Jharkhand Assembly Election 2019) के दौरान धन-बल (Money power) का उपयोग करने वाले प्रत्याशियों (Candidates) और उनके समर्थकों (Supporters) पर चुनाव आयोग (Election Commission) की पैनी नजर है. चुनाव आयोग ने इसे रोकने के लिए न केवल राज्य के सीमाई क्षेत्र को सील किया है बल्कि हवाई मार्ग पर भी खास नजर रख रही है. राज्य स्तर से लेकर हर विधानसभा क्षेत्र में आयोग ने आयकर विभाग (Income tax department) समेत 16 विभागों की संयुक्त टीम गठित कर प्रत्याशियों के चुनावी खर्च से लेकर बैंक अकांउट (Bank Accounts) और बेनामी पैसों (Anonymous money) की आवाजाही पर नजर रखना शुरू कर दिया है.

विशेष सतर्कता बरत रही चुनाव आयोग 

दरअसल, पिछले लोकसभा चुनाव में काला धन (Black Money) इस्तेमाल करने की कोशिश हुई थी. तब उस दौरान करीब 5 करोड़ से ज्यादा की नकद राशि बरामद की गई थी, इसीलिए इस बार के विधानसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग विशेष सतर्कता बरत रही है.

16 विभागों के बड़े अधिकारियों को बनाया नोडल 

चुनाव के दौरान पैसों की आवाजाही पर नजर रखने के लिए जिन विभागों की संयुक्त टीम बनाई गई है, उनमें आयकर विभाग (Income tax department), उत्पाद विभाग (Product department), वाणिज्यकर विभाग (Department of Commerce), रेलवे (Railway), एयरपोर्ट (Airport), पुलिस (Police), नारकोटिक्स (Narcotics) समेत 16 विभागों के बड़े अधिकारियों को नोडल बनाया गया है. मामले की जानकारी मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनय कुमार चौबे ने दी है.

उड़न दस्ते से की जाएगी निगरानी

बता दें कि हर विधानसभा क्षेत्र में तीन या उससे ज्यादा उड़न दस्ते गठित किए गए हैं. इससे नकद रुपयों का अवैध आदान-प्रदान और शराब के अलावा हर संदेहास्पद वस्तु पर नजर रखी जा रही है. साथ ही आने- जाने वाली हर गाड़ी की तलाशी ली जा रही है. एयरपोर्ट पर भी सुरक्षा बलों की सघन चेकिंग चल रही है. रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर भी नजर रखी जा रही है. आयकर विभाग ने आम लोगों के लिए टॉल फ्री नंबर 18003456547 जारी कर किसी भी संदिग्ध वस्तु या आदमी दिखने पर सूचना देने की अपील की है. राजधानी रांची में 27 जगहों पर चेकपोस्ट बनाए गए हैं, जिसमें 24 घंटे चेकिंग की जा रही है.
Loading...

बता दें कि विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों के लिए अधिकतम खर्च की सीमा 28 लाख रुपए है. चुनाव में प्रत्याशियों को 28 लाख की निर्धारित सीमा में ही खर्च करने होंगे. आयोग की नजर ऐसे लोगों पर है जो चुनाव के दौरान धन बल का इस्तेमाल कर वोटरों को प्रभावित करने की कोशिश करते हैं.

ये भी पढ़ें:- झारखंड विधानसभा चुनाव: BJP की पहली लिस्ट में कटे मौजूदा इन 10 विधायकों के टिकट

ये भी पढ़ें:- RJD ने की 5 प्रत्याशियों के नाम की घोषणा, चतरा से सत्यानंद भोक्ता को टिकट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 8:59 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...