झारखंडः मधुपुर उपचुनाव में मतगणना से पहले चुनाव आयोग की बड़ी कार्रवाई, रिटर्निंग अफसर को हटाया

बीजेपी ने मधुपुर उपचुनाव में जिला प्रशासन के कामकाज पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की थी.

बीजेपी ने मधुपुर उपचुनाव में जिला प्रशासन के कामकाज पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की थी.

Madhupur By election: झारखंड सरकार के उद्योग विभाग में अंडर सेक्रेटरी नीरज कुमार सिंह को नया रिटर्निंग अफसर बनाया गया है. वे मधुपुर के नए एसडीओ बनाए गए हैं. 2 मई को आएगा मधुपुर विधानसभा उपचुनाव का परिणाम.

  • Share this:
रांची. मधुपुर उपचुनाव में मतगणना से पहले चुनाव आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है. रिटर्निंग अफसर को बदल दिया गया है. झारखंड सरकार के उद्योग विभाग में अंडर सेक्रेटरी नीरज कुमार सिंह को रिटर्निंग अफसर बनाने का आदेश गया है. नीरज कुमार सिंह मधुपुर के नए एसडीओ बनाए गए हैं.

मधुपुर के मैदान में कुल 6 प्रत्याशी चुनावी जंग लड़ रहे हैं. इनमें मुख्य मुकाबला महागठबंधन और एनडीए प्रत्याशियों के बीच ही है. झारखंड सरकार के मंत्री और झामुमो प्रत्याशी हफीजुल हसन अंसारी और भाजपा प्रत्याशी गंगा नारायण सिंह के बीच कड़ी टक्कर है.

गत 17 अप्रैल को मधुपुर में मतदान संपन्न हुआ. कोरोना के खौफ के बीच लोगों ने बाहर निकलकर वोटिंग की. 71.60 प्रतिशत वोटिंग दर्ज की गई. अब दो मई का इंतजार है. इसी दिन मतगणना के बाद रिजल्ट घोषित कर दिये जाएंगे. वैसे इस सीट पर जेएमएम और बीजेपी का बारी-बारी से परचम लहरता रहा है.

मतदान से पहले भाजपा ने आरोप लगाया था कि देवघर डीसी जेएमएम कार्यकर्ता की तरह ड्यूटी कर रहे हैं. जिले के अधिकारी सरकार के इशारे पर चुनाव को प्रभावित करने में लगे हुए हैं. भाजपा की ओर से चुनाव आयोग में जिला प्रशासन की भूमिका को लेकर लिखित शिकायत दर्ज कराई गई थी.
सांसद निशिकांत दुबे ने आरोप लगाया था कि सूबे के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मधुपुर पहुंचकर जिला अधिकारियों पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं. जिले के उपायुक्त, एसपी, एसडीपीओ सहित अनुमंडल पदाधिकारी गुपचुप तरीके से चुनाव को प्रभावित करने में लगे हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज