झारखंड सरकार की एकमात्र बिजली कंपनी है टीवीएनएल, पैसों की कमी से उत्पादन ठप

झारखंड राज्य बिजली बोर्ड, टीवीएनएल से नियमित रूप से बिजली खरीदता है. लेकिन वक्त पर पैसा नहीं देता.

News18 Jharkhand
Updated: June 14, 2018, 8:11 PM IST
झारखंड सरकार की एकमात्र बिजली कंपनी है टीवीएनएल, पैसों की कमी से उत्पादन ठप
टीवीएनएल में पैसों की कमी
News18 Jharkhand
Updated: June 14, 2018, 8:11 PM IST
झारखंड सरकार की एकमात्र बिजली कंपनी तेनुघाट विद्युत निगम लिमिटेड (टीवीएनएल) सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. पैसों की कमी की वजह से कंपनी कोयला नहीं खरीद पा रही है. इससे बिजली उत्पादन ठप है.

टीवीएनएल की दो यूनिटों से 340 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता रहा है. लेकिन कोयला नहीं होने की वजह से एक यूनिट तीन महीने से बंद है, जबकि दूसरी किसी तरह से चल रही है. दरअसल टीवीएनएल कोयले की खरीदारी सीसीएल से करती है. लेकिन सीसीएल ने कैश टू कैरी नियम लागू कर रखा है. यानि बगैर पैसे के कोयले की डिलेवरी नहीं दी जाएगी. ऐसे में टीवीएनएल प्रबंधन ने पिछले सात दिनों में सात पत्र लिखकर बिजली वितरण निगम से पैसों की मांग की है.

झारखंड राज्य बिजली बोर्ड, टीवीएनएल से नियमित रूप से बिजली खरीदता है. लेकिन वक्त पर पैसा नहीं देता. बोर्ड पर कंपनी का 36 सौ करोड़ का बकाया हो गया है. टीवीएनएल के चीफ प्रोडक्शन इंजीनियर एसके चौधरी का कहना है कि जुलाई के बाद कंपनी के लिए बिजली का उत्पादन करना मुश्किल हो जाएगा.

बता दें कि टीवीएनएल को अपनी दोनों यूनिट चलाने के लिए रोजाना छह हजार मिट्रिक टन कोयले की जरूरत पड़ती है. लेकिन पैसा नहीं होने की वजह कोयले की खरीदारी नहीं हो पा रही है. कंपनी इस बार  हर साल की तरह जनवरी से जून तक के लिए एक्सट्रा कोयले का स्टॉक भी नहीं कर पाई.

(अजय लाल की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-

11 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म, गंभीर अवस्था में चाकुलिया अस्पताल से जमशेदपुर रेफर
Loading...

JVM नेता हत्याकांड में दो दोषियों को उम्रकैद की सजा

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर