Home /News /jharkhand /

enforcement directorate directs ias pooja singhal not to leave ranchi she may arrest in khunit mnrega scam bruk

IAS Pooja Singhal Case: ED ने पूजा सिंघल को दिया रांची नहीं छोड़ने का निर्देश, लटक रही गिरफ्तारी की तलवार

IAS Pooja Singhal Case: पूजा सिंघल और उनके पति अभिषेक झा को ईडी की ओर से यह कहा गया है कि वे किसी भी सूरत में रांची स्थित मुख्यालय छोड़कर कहीं नहीं जाएं. वहीं झारखंड हाईकोर्ट में पूजा सिंघल प्रकरण की सीबीआइ जांच और ईडी अधिकारियों की सुरक्षा को लेकर याचिका दाखिल की गई है.

अधिक पढ़ें ...

रांची. मनरेगा घोटाला, आय से अधिक संपत्ति और भ्रष्‍टाचार के संगीन आरोपों से घिरीं झारखंड की खनन और उद्योग सचिव पूजा सिंघल को ईडी ने किसी भी सूरत में रांची नहीं छोड़ने का निर्देश दिया है. दरअसल ईडी की टीम ने मंगलवार को पूजा सिंघल से 9 घंटे तक लंबी पूछताछ के बाद रात करीब 8 बजे उन्‍हें छोड़ दिया था. इसके साथ ही ईडी के अधिकारियों ने उन्हें रांची नहीं छोड़ने का भी निर्देश दिया है. वहीं ईडी की टीम ने आज यानि बुधवार को एक बार फिर पूजा सिंघल व उनके पति अभिषेक झा को पूछताछ के लिए रांची के ईडी दफ्तर में बुलाया गया.

पूजा सिंघल और उनके पति अभिषेक झा को ईडी की ओर से यह भी कहा गया है कि वे किसी भी सूरत में रांची स्थित मुख्यालय छोड़कर कहीं नहीं जाएं. इधर झारखंड हाईकोर्ट में पूजा सिंघल प्रकरण की सीबीआइ जांच और ईडी अधिकारियों की सुरक्षा को लेकर याचिका दाखिल की गई है. वहीं झारखंड सरकार ने भी पूजा सिंघल को छुट्टी दे दी है. उनकी जगह पर दूसरे अधिकारी को खनन और उद्योग विभाग का प्रभार सौंपा जाएगा.

पूजा सिंघल ने खुद को बताया निर्दोष
बता दें, झारखंड सरकार की खान एवं उद्योग सचिव पूजा सिंघल से मंगलवार को ईडी के अधिकारियों ने करीब 9 घंटे तक पूछताछ की. 11:15 बजे से शुरू हुई पूछताछ करीब रात 8:00 बजे तक चली. इस दौरान ईडी के हर आरोप को पूजा ने नकारते हुए कहा कि वह निर्दोष हैं. वह सुबह अपने पति अभिषेक झा के साथ ही कार्यालय पहुंची थीं. वहां पहले से ही उनके चार्टर्ड अकाउंट सुमन सिंह ईडी की रिमांड पर हैं. अभिषेक और सुमन ने लगातार तीसरे दिन सवालों के जवाब दिए.

मनरेगा घोटाले को लेकर पूजा सिंघल ने दिया यह जवाब
सूत्रों के अनुसार पूजा सिंघल से पूछताछ की शुरुआत खूंटी जिले के बहुचर्चित मनरेगा घोटाले से हुई. मनरेगा घोटाले के वक्त पूजा सिंगल ही खूंटी की डीसी थी. तब मनरेगा की योजनाओं में  18 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ था. उन्होंने ईडी के अधिकारियों को बताया कि उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए राज्य सरकार ने एक जांच कमेटी गठित की थी. जांच कमेटी ने उन्हें उक्त मामले में क्लीन चिट दी है. पूजा सिंघल ने ईडी की टीम को बताया कि तब उन्होंने अपना जवाब दाखिल किया था. उसी जवाब पर आज भी कायम हूं, जवाब की कॉपी राज्य सरकार से लेकर देखी जा सकती है. पूछताछ के दौरान पूजा सिंघल ने मनरेगा घोटाले में अपनी संलिप्तता से इनकार किया. पूजा ने ईडी को बताया कि उन्होंने कभी राम विनोद सिन्हा या किसी दूसरे अधिकारी से पैसे नहीं लिए

Tags: Enforcement directorate, MNREGA, Ranchi news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर