Home /News /jharkhand /

इंजीनियर ने खेला अरबों का खेल, शान से कर रहा नौकरी

इंजीनियर ने खेला अरबों का खेल, शान से कर रहा नौकरी

झारखंड भ्रष्टाचार और घोटालों के लिए अधिक पहचाना जाता है.इसकी बदनामी नकारात्मक कारणों से अधिक हुई है.यहां के राजनेता, प्रशासनिक अफसर, अभियंता के कारण सरकार की छवि खराब हुई है और आर्थिक नुकसान भी हुआ है.एक नया उदाहरण है रामगढ़ का.यहां के आरईओ के तदेन कार्यपालक अभियंता यादवेन्द्र सिंह ने आईएपी की योजनाओं में बड़ा खेल किया है.पैसे की निकासी मनमाने तरीके से की गई है.निजी खाते के पैसे की तरह सरकार के पैसे का उपयोग किया.

झारखंड भ्रष्टाचार और घोटालों के लिए अधिक पहचाना जाता है.इसकी बदनामी नकारात्मक कारणों से अधिक हुई है.यहां के राजनेता, प्रशासनिक अफसर, अभियंता के कारण सरकार की छवि खराब हुई है और आर्थिक नुकसान भी हुआ है.एक नया उदाहरण है रामगढ़ का.यहां के आरईओ के तदेन कार्यपालक अभियंता यादवेन्द्र सिंह ने आईएपी की योजनाओं में बड़ा खेल किया है.पैसे की निकासी मनमाने तरीके से की गई है.निजी खाते के पैसे की तरह सरकार के पैसे का उपयोग किया.

झारखंड भ्रष्टाचार और घोटालों के लिए अधिक पहचाना जाता है.इसकी बदनामी नकारात्मक कारणों से अधिक हुई है.यहां के राजनेता, प्रशासनिक अफसर, अभियंता के कारण सरकार की छवि खराब हुई है और आर्थिक नुकसान भी हुआ है.एक नया उदाहरण है रामगढ़ का.यहां के आरईओ के तदेन कार्यपालक अभियंता यादवेन्द्र सिंह ने आईएपी की योजनाओं में बड़ा खेल किया है.पैसे की निकासी मनमाने तरीके से की गई है.निजी खाते के पैसे की तरह सरकार के पैसे का उपयोग किया.

अधिक पढ़ें ...
झारखंड भ्रष्टाचार और घोटालों के लिए अधिक पहचाना जाता है.इसकी बदनामी नकारात्मक कारणों से अधिक हुई है.यहां के राजनेता, प्रशासनिक अफसर, अभियंता के कारण सरकार की छवि खराब हुई है और आर्थिक नुकसान भी हुआ है.एक नया उदाहरण है रामगढ़ का.यहां के आरईओ के तदेन कार्यपालक अभियंता यादवेन्द्र सिंह ने आईएपी की योजनाओं में बड़ा खेल किया है.पैसे की निकासी मनमाने तरीके से की गई है.निजी खाते के पैसे की तरह सरकार के पैसे का उपयोग किया.

यादवेन्द्र सिंह ने आईएपी की कई योजनाओं के लिए पैसे अपने खाते में रखे, जबकि ऐसा नहीं करने का निर्देश दिया गया था.यादवेन्द्र और अन्य कई इंजीनियर का एक खास गुट था, जिसने लगभग 500 करोड़ रुपए का मनमाने तरीके से उपयोग किया.एक्सिस बैंक में खाता खोला गया.खाता का डिटेल्स बताता है कि कई बार यादवेन्द्र सिंह बैंक से अपने उपयोग के लिए पैसा निकाला था.

झाविमो विधायक प्रदीप यादव ने पिछले दिनों झारखंड विधानसभा में यह मामला उठाया था.उन्होंने बताया कि यादवेन्द्र सिंह फिलहाल पथ निर्माण विभाग में कार्यपालक अभियंता बने हुए हैं.अभी वो देवघर में जिला अभियंता के तौर पर शान से काम कर रहे हैं.सरकार के मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि यह मामला सरकार के संज्ञान में है और तथ्य के आधार पर कार्रवाई होगी.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर