कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश का सख्त संदेश- छुट्टी के दिन भी काम करें जज, केस का हो निष्पादन

बैठक करते कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल

बैठक करते कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल

कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश ने पिछले साल का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले साल काम नहीं करने वाले 12 जज को घर भेजा गया. इस बार वे नहीं चाहते हैं कि फिर ऐसा करना पड़े.

  • Share this:

झारखंड हाइकोर्ट के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल ने राज्य के सभी जिलों के प्रधान जिलासत्र न्यायाधीश (पीडीजे) के साथ बैठक की. वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से हुई इस बैठक में सभी जजों को 5 वर्ष से अधिक समय से लंबित आपराधिक मामले को शीध्र निष्पादित करने का आदेश दिया गया.

कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश ने साफ कहा कि ढुलमूल रवैया नहीं चलेगा. उन्होंने पिछले साल का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले साल काम नहीं करने वाले 12 जज को घर भेजा गया. इस बार वे नहीं चाहते हैं कि फिर ऐसा करना पड़े.

कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश ने पिछले वर्ष लक्ष्य से अधिक केस का निष्पादन करने के लिए जजों को धन्यवाद दिया और इस वर्ष के लिए 45 हजार केस के निस्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया है. उन्होंने कहा कि छुट्टी के दिन भी जज काम करें और केस का निष्पादन करें.



बैठक में सभी पीडीजे से केस के निष्पादन संबंधी आंकड़ा पूछा गया. साथ ही निष्पादन में आने वाले कठिनाइयों के बारे में भी जानकारी ली गई. रिजस्ट्रार जनरल अम्बुज नाथ को जजों की परेशानी दूर करने का निर्देश दिया गया.
(नीरज नयन चौधरी की रिपोर्ट)

 

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज