• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • रांची एयरपोर्ट में जल्द ये नई सुविधाएं होंगी उपलब्ध, दरभंगा- बनारस के लिए फ्लाइट्स की मांग

रांची एयरपोर्ट में जल्द ये नई सुविधाएं होंगी उपलब्ध, दरभंगा- बनारस के लिए फ्लाइट्स की मांग

रांची एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के लिए 301 एकड़ जमीन प्रस्तावित है.

रांची एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के लिए 301 एकड़ जमीन प्रस्तावित है.

Birsa Munda Airport Ranchi: रांची एयरपोर्ट से वर्तमान में 32 फ्लाइट्स उड़ान भरती हैं. हालांकि मौसम खराब रहने के कारण कई बार फ्लाइट उतर नही पाती, क्योंकि रनवे पर हादसे का खतरा रहता है. लिहाजा एयरपोर्ट का विस्तारीकरण जरूरी है.

  • Share this:

रांची. रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट (Birsa Munda Airport Ranchi) के विस्तारीकरण को लेकर रविवार को अहम बैठक हुई. रांची सांसद और बिरसा मुंडा एयरपोर्ट ऑथोरिटी के बीच हुई इस बैठक में एयरपोर्ट में विमान की संख्या बढ़ाने पर बात हुई. रांची से बनारस और रांची से दरभंगा की फ्लाइट शुरू कराने की सांसद ने मांग की.

रांची एयरपोर्ट के कारण विस्थापित हुए गांवों में एयरपोर्ट ऑथोरिटी सीएसआर फंड से विकास कार्यों को अमली जामा पहनाने का काम करेगी. गांव की सड़कों, नालियों, स्कूल में मिड डे मील, स्ट्रीट लाइट,पीने के पानी की व्यवस्था करेगी. वहीं पूर्व की सरकार में 301 एकड़ जमीन एयरपोर्ट को विस्तारीकरण के लिए दी गई थी. हालांकि वर्तमान हेमंत सरकार ने इसमें थोड़ा बदलाव किया है. 301 एकड़ जमीन राज्य सरकार एयरपोर्ट को देगी. लेकिन यह जमीन लीज पर देगी. इसको लेकर अब नए सिरे से एयरपोर्ट ऑथोरिटी पेपर वर्क कर उसे केंद्र को सौंपेगी. जिसके बाद आगे का कार्य होगा.

सांसद संजय सेठ ने बताया कि अब एयरपोर्ट के अंदर से ही टैक्सी की व्यवस्था की गई है, जिससे यात्री खुद को सुरक्षित महसूस करेंगे. रांची एयरपोर्ट डायरेक्टर विनोद कुमार ने बताया कि वर्तमान में एयरपोर्ट ऑथोरिटी सीएसआर का लाभ ग्रामीणों को दे रही है. लेकिन अब इसे और भी बढ़ाया जाएगा और ग्रामीणों को ज्यादा लाभ कैसे हो इसका विशेष ध्यान दिया जाएगा. वहीं इसके साथ ही एयरपोर्ट की पार्किंग व्यवस्था के साथ-साथ फ्लाइट की संख्या बढ़ाने को लेकर भी पूरी व्यवस्था की जा रही है. नाइट पार्किंग से लेकर अन्य सुविधाओं को भी बढ़ाया जाएगा.

रांची एयरपोर्ट से वर्तमान में 32 फ्लाइट उड़ान भरती है. हालांकि मौसम खराब रहने के कारण कई बार फ्लाइट उतर नही पाती. क्योंकि रनवे पर हादसे का खतरा रहता है. ऐसे में अगर 301 एकड़ जमीन एयरपोर्ट को मिल जाती है, तो मौसम की मार का ज्यादा असर फ्लाइट्स पर नहीं पड़ेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज