लाइव टीवी

टाइफाइड से हुई बेटी की मौत, शव यात्रा में शामिल नहीं हो पाया पिता, पास के लिए लगाता रहा चक्कर
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 4, 2020, 12:56 PM IST
टाइफाइड से हुई बेटी की मौत, शव यात्रा में शामिल नहीं हो पाया पिता, पास के लिए लगाता रहा चक्कर
उनकी अंत्येष्टि में जहांगीराबाद स्थित उनके घर से लेकर सुभाषनगर विश्राम घाट तक सैकड़ों लोग पहुंचे थे.(प्रतीकातमक फोटो)

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान बेटी की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए एक पिता दर-दर भटकता रहा, लेकिन किसी ने उसकी फरियाद नहीं सुनी .

  • Share this:
रांची. बेटी (Daughter) की शव यात्रा के अंतिम दर्शन के लिए गिड़गिड़ाते पिता की आखिरकार किसी ने सुध नहीं ली. इस वजह से एक पिता अपनी बेटी के अंतिम संस्कार (Funeral) में शामिल नहीं हो सका. पीड़ित पिता रांची (Ranchi) के नामकुम इलाके का रहने वाला है. मृतिका का नाम रानी है. उसकी मौत उसके ससुराल बिहार के नवादा में हुई है. पिता के अनुसार, रानी की मौत की वजह टाइफाइड है.  उनका कहना है कि लॉकडाउन की वजह से बेटी का इलाज ठीक तरीके से नहीं हो पाया. बेटी की मौत से उसके मायके में मातम का माहौल है.

मायके वाले को इस बात का मलाल है कि वो अपनी बेटी के अंतिम संस्कार में भी इस लॉकडाउन की वजह से शामिल नहीं हो पाए. घटना से आहत पिता का कहना है कि 2 अप्रैल की रात उन्हें ये जानकारी मिली कि बेटी की तबियत काफी ज्यादा खराब है. इसके बाद 3 अप्रैल की सुबह उन्हें बेटी की मौत की सूचना मिली. मृतिका की 4 वर्षीय की बेटी भी है जो इस वक्त मायके वालों के साथ ही है.

दफ्तर के चक्कर काटते रहे
पीड़ित पिता का कहना है सुबह से शाम तक अधिकारियों के दफ्तर के चक्कर काटते रहे, लेकिन उन्हें पास नहीं मिला. वहीं, उन्होंने बताया कि जिस तरह उन्हें इस तरह की समस्या से जूझना पड़ा वैसा किसी और के साथ न हो. इसका ख्याल सरकार रखे. हालांकि, 3 अप्रैल को शाम 5 बजे जितेंद्र को पास के लिए बुलाया गया लेकिन तबतक काफी देर हो चुकी थी.



निराशा ही हाथ लगी


पड़ोसियों का भी कहना है कि नवादा जाने के लिए तमाम प्रयास किये गए लेकिन उन लोगों को निराशा ही हाथ लगी, जिस कारण एक पिता को उसकी बेटी के अंतिम संस्कार में शामिल होना नसीब न हो पाया. वहीं, मृतका की मां अपनी बेटी की मौत से इतनी आहत है कि अब रोती- बिलखती नजर आ रही है और इसी दौरान उनका कहना है कि किसी और के साथ ऐसा न हो.

ये भी पढ़ें- 

डॉक्टर और स्टाफ सहित सर गंगाराम हॉस्पिटल के 108 लोगों को किया गया क्वारेंटाइन

बेल याचिकाएं सूचीबद्ध नहीं करने के राजस्थान हाई कोर्ट के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2020, 12:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading