लाइव टीवी

चारा घोटाला: लालू यादव की जमानत याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई

News18 Jharkhand
Updated: December 6, 2019, 11:19 AM IST
चारा घोटाला: लालू यादव की जमानत याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई
दुमका कोषागार मामले में लालू यादव को सीबीआई कोर्ट ने सात-सात साल की सजा सुनाई है (फाइल फोटो)

दुमका कोषागार मामले में लालू यादव (Lalu Yadav) ने बढ़ती उम्र और खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर जमानत (Bail) की मांग की है.

  • Share this:
रांची. चारा घोटाले (Fodder Scam) के दुमका कोषागार मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) की जमानत याचिका (Bail Petition) पर आज फिर झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई होने वाली है. न्यायाधीश अपरेश कुमार सिंह की अदालत में याचिका सुनवाई के लिए सूचीबद्ध है. इससे पहले तीन बार उनकी याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई टल चुकी है. इस मामले में कोर्ट ने लालू यादव की याचिका पर सीबीआई को जवाब पेश करने को कहा था. सीबीआई ने अपना जवाब पेश कर दिया है.

लालू यादव ने दुमका कोषागार मामले में जमानत याचिका दायर कर अपनी बीमारी का हवाला दिया है. याचिका में उन्होंने कहा है कि वो रांची के रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं और कई बीमारियों से पीड़ित हैं. पिछले कुछ समय से उनका स्वास्थ्य लगातार गिर रहा है. बढ़ती उम्र और खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर जमानत की मांग की है. बता दें कि लालू प्रसाद मधुमेह, हृदय और किडनी समेत कई बीमारियों से परेशान हैं.

सीबीआई कोर्ट ने सुनाई है 7 साल की सजा

इस मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू यादव को पिछले साल 24 मार्च को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (पीसी एक्ट) के तहत सात-सात वर्ष की सजा सुनाई थी. इस मामले में उन पर 60 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया. इसके अलावा चारा घोटाले के तीन अन्य मामलों में भी वो सजायाफ्ता हैं. लालू यादव पर दुमका कोषागार से तीन करोड़ 13 लाख रुपए गबन करने का आरोप था.

देवघर मामले में बढ़ सकती हैं मुश्किलें

उधर, देवघर कोषागार मामले में भी लालू यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. सीबीआई की सजा बढ़ाने की मांग वाली याचिका को हाईकोर्ट ने सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया है. मंगलवार को सीबीआई की याचिका पर न्यायाधीश अमिताभ कुमार गुप्ता और न्यायाधीश राजेश कुमार की अदालत में सुनवाई हुई. इस दौरान लालू यादव एवं अन्य सजायाफ्ता की ओर से याचिका का विरोध किया गया. लेकिन कोर्ट ने इनके विरोध को नजरअंदाज करते हुए याचिका को सुनवाई के स्वीकार कर लिया. सीबीआई कोर्ट ने इस मामले में लालू यादव को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई है.

(रिपोर्ट- नीरज नयन चौधरी)ये भी पढ़ें- हैदराबाद एनकाउंटर पर झारखंड की महिलाएं बोलीं- जो हुआ, अच्छा हुआ

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 11:16 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर