होम /न्यूज /झारखंड /जनादेश समागम के जरिये बाबूलाल मरांडी ने दिखाई ताकत, कहा- मैं कोई दीवार नहीं, जिसे बीजेपी ढहा दे

जनादेश समागम के जरिये बाबूलाल मरांडी ने दिखाई ताकत, कहा- मैं कोई दीवार नहीं, जिसे बीजेपी ढहा दे

पूर्व सीएम ने कहा कि जेवीएम ने अपने 13 वर्षो के कालखंड में जन मुद्दों को लेकर झारखंड में जितना संघर्ष किया, शायद ही किसी दूसरी पार्टी ने किया है.

पूर्व सीएम ने कहा कि जेवीएम ने अपने 13 वर्षो के कालखंड में जन मुद्दों को लेकर झारखंड में जितना संघर्ष किया, शायद ही किसी दूसरी पार्टी ने किया है.

जेवीएम सुप्रीमो ने रघुवर सरकार पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कहा कि कॉरपोरेट हित में रैयतों से कौड़ी के मोल जमीन खरीदकर ...अधिक पढ़ें

    रांची. राजधानी के प्रभात तारा मैदान में जनादेश समागम (Janadesh Samagam) के जरिये पूर्व मुख्यमंत्री और जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने अपनी ताकत दिखाई. समागम में जुटी भीड़ से उत्साहित बाबूलाल मरांडी ने कहा कि केंद्र से लेकर झारखंड की सरकार (Jharkhand Govt) जेवीएम को मिटाने पर आमादा है. जेवीएम (JVM) को जमींदोज करने के लिए हर हथकंडे अपनाये जा रहे हैं. छह-छह विधायक तोड़ लिए गए. जेवीएम के विलय तक की अफवाह उड़ाई गई. लेकिन बाबूलाल कोई दीवार नहीं, जिसे बीजेपी ढहा दे. वो राज्य की जनता के दिलों में बसते हैं.

    मरांडी ने कहा कि 2006 में उन्होंने झारखंड की सेवा के संकल्प के साथ अपनी यात्रा शुरू की थी. भय, भूख और भ्रष्टाचारमुक्त झारखंड का सपना था, जिसमें बाद की सरकारों ने पलीता लगा दिया. अगर 2019 में जनता ने उनका साथ दिया और उनकी सरकार बनी, तो दो वर्षो के अंदर झारखंड की तस्वीर बदल दी जाएगी.

    जेल और लाठी-गोली से हम डरने वाले नहीं

    पूर्व सीएम ने कहा कि जेवीएम ने अपने 13 वर्षो के कालखंड में जन मुद्दों को लेकर झारखंड में जितना संघर्ष किया, शायद ही किसी दूसरी पार्टी ने किया है. यह जमीन से जुड़ी पार्टी है, यही वजह है कि बारिश के इस मौसम में भी सुदूर क्षेत्रों से कार्यकर्ताओं का महाजुटान हुआ है. जेवीएम की यही लोकप्रियता सत्ताधारी दलों को रास नहीं आई और उसके दो नेताओं को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया गया. लेकिन इसकी परवाह किए बगैर हम सिर पर कफन बांधकर निकल चुके हैं. जेल और लाठी-गोली से हम डरने वाले नहीं हैं. स्वस्थ, शिक्षित और स्वावलंबी झारखंड के लिए जेवीएम का संघर्ष जारी रहेगा.

    रघुवर सरकार पर निशाना 

    जेवीएम सुप्रीमो ने रघुवर सरकार पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कहा कि कॉरपोरेट हित में रैयतों से कौड़ी के मोल जमीन खरीदकर उसे बेच जी रही है. 2018 तक बिजली नहीं देने पर वोट नहीं मांगने की बात कहने वाली सरकार अब 2022 की बात कर रही है. जेवीएम सत्ता में आया, तो भ्रष्टाचारी जेल में होंगे.

    कार्यक्रम में बाबूलाल मरांडी को पार्टी का फिर से केंद्रीय अध्यक्ष बनाए जाने की विधिवत घोषणा की गई. समागम को डा. सबा अहमद, रामचंद्र केशरी, चंद्रिका महथा, रमेश राही समेत अन्य नेताओं ने भी संबोधित किया.

    इनपुट- नौशाद आलम

    ये भी पढ़ें- झारखंड में लोगों को ट्रैफिक के भारी भरकम जुर्माने से मिली राहत

     

    Tags: Assembly Election 2019, Babulal marandi, Jharkhand Assembly Election 2019, Ranchi news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें