Home /News /jharkhand /

झारखंड के पूर्व मंत्री बंधु तिर्की को एसीबी ने किया गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत

झारखंड के पूर्व मंत्री बंधु तिर्की को एसीबी ने किया गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत

राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में तिर्की को रांची में सिविल कोर्ट कैंपस से गिरफ्तार किया गया है.

राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में तिर्की को रांची में सिविल कोर्ट कैंपस से गिरफ्तार किया गया है.

राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में तिर्की को रांची में सिविल कोर्ट कैंपस से गिरफ्तार किया गया है.

    रांची. 34वें राष्ट्रीय खेल में हुए घोटाले के आरोप में झारखंड (Jharkhand) के पूर्व मंत्री और जेवीएम (JVM) नेता बंधु तिर्की (Bandhu Tirkey) को एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने नाटकीय ठंग से एसीबी कोर्ट परिसर के बाहर से गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद उन्हें एसीबी कार्यालय लाया गया जहां से कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद पहले मेडिकल के लिए अस्पताल फिर कोर्ट ले जाया गया. कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. गौरतलब है कि खेल घोटाले के मामले में ये तीसरी गिरफ्तारी है. पूर्व में एस एम हाशमी और पीसी मिश्रा की गिरफ्तारी एसीबी ने की थी.

    सरकार बदले की भावना से काम कर रही: जेवीएम
    वहीं, जेवीएम नेता और पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता सरोज कुमार ने बताया कि सरकार बदले की भावना से कार्य कर रही है. कोर्ट ने कॉल फॉर डायरी मांगा था. वहीं जेवीएम ने आरोप लगाया कि मामले में अब तक वारंट भी जारी नही किया गया और आनन-फानन में बंधु तिर्की को गिरफ्तार किया गया.

    खेल घोटाला में आरोपी हैं बंधु तिर्की 
    बंधु तिर्की 34वें राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में आरोपी हैं. इस राष्ट्रीय खेल का आयोजन रांची में हुआ था. खेल घोटाला के आयोजन के पहले खेल सामग्री खरीदी, खेल ठेका देने में अनियमितता, निर्माण में गड़बड़ी के मामले सामने आए जिसके बाद एसीबी ने इस संबंध में शिकायत दर्ज करने के बाद जांच शुरू की थी.

    आय से अधिक संपत्ति मामले में भी जा चुके हैं जेल
    पिछले साल जेवीएम नेता बंधु तिर्की को सीबीआई की टीम ने रांची में गिरफ्तार किया था. आय से अधिक संपत्ति के मामले में उनकी गिरफ्तारी हुई थी. गिरफ्तारी के बाद बंधु को सीबीआई कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया था. दरअसल बंधु तिर्की पर आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा चलाने का आदेश साल 2013 में सीबीआई कोर्ट ने दिया था. कोर्ट ने इस सिलसिले में सीबीआइ द्वारा दायर क्लोजर रिपोर्ट को अमान्य करार दिया था. तब अदालत ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए बंधु तिर्की को नोटिस भी जारी किया था.

    (रिपोर्ट- ओम प्रकाश)

    ये भी पढ़ें-

    झारखंड JDU में जान फूंकने 7 सितंबर को रांची आएंगे सीएम नीतीश

    बच्चा चोरी के शक में युवक की पिटाई, पुलिस ने बचाई जान

    Tags: Jharkhand news, Ranchi news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर