'चोर- डकैत- हत्यारा- बलात्कारी, हेमंत है तो हिम्मत है', BJP नेता के यह कहते ही सदन में मच गया हंगामा

शुक्रवार को पूर्व मंत्रियों ने सदन में एक साथ हेमंत सरकार पर हमला बोला. (फाइल फोटो)

शुक्रवार को पूर्व मंत्रियों ने सदन में एक साथ हेमंत सरकार पर हमला बोला. (फाइल फोटो)

Jharkhand Assembly: पूर्व मंत्री सीपी सिंह ने सरकार पर निशाना साधते हुए सदन में कहा कि आज कल सब जगह लोग एक ही गाना गुनगुना रहे हैं. चाहे वो चोर हो, डकैत हो, हत्यारा हो, बलात्कारी हो या दुराचारी हो, हेमंत है तो हिम्मत है. उनके इतना कहते ही सदन में हंगामा मच गया.

  • Share this:
रांची. राजनीति में कौन- कब- कहां और किसके खिलाफ क्या बोल दे ये कहना मुश्किल है. राष्ट्रीय राजनीति से लेकर प्रदेश तक की राजनीति में आये दिन कुछ ना कुछ ऐसा होता ही रहता है, जब बयानों के बाण से सामने वाले को मूर्छित करने की कोशिश होती है. ऐसे में कई बार नेता अपना आपा भी खो देते हैं और उस वक्त उन्हें इस बात इल्म नहीं होता कि वो जो बोल रहे है, वो संसदीय व्यवस्था और मर्यादा के खिलाफ है. शुक्रवार को झारखंड विधानसभा (Jharkhand Assembly) में कुछ ऐसा ही हुआ, जिसे जानकर आपको भी हैरानी होगी.

शुक्रवार को अनुदान मांग को लेकर सदन में चर्चा हो रही थी. अनुदान मांग पर बीजेपी के अमर बाउरी कटौती प्रस्ताव पर बोल रहे थे. वो वर्तमान राज्य सरकार की नाकामियों को सदन में रख रहे थे. तभी सत्तापक्ष की ओर से पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने यह कहते हुए उन्हें टोका कि विपक्ष को सरकार के द्वारा किये जा रहे कार्य की सही जानकारी नहीं है. बात कुछ और बढ़ी. इसके बाद अमर बाउरी उत्तेजित हो गए. उन्होंने मिथिलेश ठाकुर से कहा अभी जुम्मा- जुम्मा एक साल हुए मंत्री बने. आगे रहेंगे या नहीं, पता नहीं. मैं दूसरी बार चुनाव जीत कर आया हूं. इससे पहले पांच साल मंत्री था. फिर कुछ नोक-झोंक हुई. उसके बाद फिर एक बार अमर बाउरी ने कहा ज्यादा गर्म नहीं होइए पानी पीजिए और ठंडा रहिये.

सदन में चर्चा का दौर जारी था. इस दौरान हर रोज की तरह सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच टोक-टाक की राजनीति हो रही थी. इस बीच बीजेपी के भानु प्रताप शाही ने सदन में सरकार के खिलाफ उठ रहे सवाल और आरोप - प्रत्यारोप के बीच खड़े होकर चुटकी ली. भानु प्रताप शाही ने संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम की ओर मुखातिब होते हुए कहा ये सब कुछ जानते हैं, फिर धृतराष्ट्र बनकर चुपचाप तमाशा देख रहे हैं.

सदन में अगर बीजेपी के विधायक सीपी सिंह बोलने के लिये खड़े हो तो सबकी निगाहें उन पर टिक जाती हैं. वो बड़े सुलझे हुये अंदाज में सत्तापक्ष पर निशाना साधने की हर संभव कोशिश करते हैं. शुक्रवार को भी उन्होंने अपनी बात की शुरुआत करते हुये कहा आज कल सब जगह लोग एक ही गाना गुनगुना रहे हैं. चाहे वो चोर हो, डकैत हो, हत्यारा हो, बलात्कारी हो या दुराचारी हो, सब के सब बस यही गुनगुना रहे हैं, हेमंत है तो हिम्मत है. उनके इतना कहते ही सदन में हंगामा मच गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज