कोरोना के चलते लगातार दूसरे साल डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय का स्थापना दिवस समारोह स्थगित

कल यानी 11 अप्रैल को विश्वविद्यालय में स्थापना दिवस मनाया जाना था.

कल यानी 11 अप्रैल को विश्वविद्यालय में स्थापना दिवस मनाया जाना था.

Corona Effect: कुलपति सत्य नारायण मुंडा ने बताया स्थापना दिवस समारोह में राष्ट्रपति को आमंत्रित करने के लिए एचआरडी मंत्रालय से बात भी हो चुकी थी. लेकिन कोरोना के चलते समारोह को स्थगित कर दिया गया है.

  • Share this:
रांची. झारखंड में कोरोना (Corona) के बढ़ते संक्रमण का प्रभाव साफ तौर पर शैक्षणिक संस्थानों पर भी दिखाई दे रहा है. इन संस्थानों में फिर से ऑनलाइन क्लासेस की बात हो रही है. इस बीच डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय (Dr. Shyama Prasad Mukherjee University) के स्थापना दिवस समारोह को स्थगित कर दिया गया है. बदले में यूनिवर्सिटी छोटे स्तर पर कार्यक्रम कर छात्रों को डिग्री प्रदान करेगा.

कुलपति सत्य नारायण मुंडा ने बताया स्थापना दिवस समारोह के लिए तैयारियां चल रही थी. राष्ट्रपति को आमंत्रित करने के लिए एचआरडी मंत्रालय से बात हो चुकी थी. लेकिन राज्य में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए इसे स्थगित कर दिया गया. अब इस कार्यक्रम को छोटे स्तर पर आयोजित किया जाएगा.

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी यूनिवर्सिटी का चौथा स्थापना दिवस 11 अप्रैल को मनाया जाना था. इससे पहले पिछले साल भी कोविड-19 की वजह से यूनिवर्सिटी का स्थापना दिवस नहीं मनाया गया था. लेकिन इस वर्ष भव्य आयोजन की योजना थी. स्थापना दिवस समारोह में राष्ट्रपति को बुलाने के साथ-साथ केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के शरीक होने की तैयारी थी. विश्वविद्यालय के आयोजन स्थगित करने की जानकारी विद्यार्थियों को भी दे दी है.

कुलपति सत्य नारायण मुंडा ने न्यूज-18 से कहा कि बड़े स्तर पर आयोजन को स्थगित किया गया है, लेकिन तैयारी पहले से चल रही थी, इसलिए छोटे स्तर समारोह किया जाएगा. केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा इसमें हिस्सा लेने वाले थे, लेकिन कोविड पॉजिटिव हो जाने के चलते वे इसमें शामिल नहीं हो पाएंगे. कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए सीमित रूप में स्थापना दिवस मनाया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज