झारखंड को प्रदूषण मुक्त करने के लिए अब इलेक्ट्रिक कार का होगा उपयोग

रघुवर सरकार ने झारखंड को हरा भरा रखने के लिए प्रदूषणरहित इलेक्ट्रिक कार का उपयोग करने की सोच बनाई है, बुधवार को इसका आगाज हो गया.सीएम ने ऊर्जा विभाग के लिए खरीदी गई 20 इलेक्ट्रिक कारों को फ्लैग आफ किया.लोगों से भी इसे अपनाने का आग्रह किया.

rajesh | News18 Jharkhand
Updated: September 12, 2018, 11:19 PM IST
झारखंड को प्रदूषण मुक्त करने के लिए अब इलेक्ट्रिक कार का होगा उपयोग
सीएम रघुवरदास इलेक्ट्रिक कार में सवार होते हुए
rajesh | News18 Jharkhand
Updated: September 12, 2018, 11:19 PM IST
रघुवर सरकार ने झारखंड को हरा भरा रखने के लिए प्रदूषणरहित इलेक्ट्रिक कार का उपयोग करने की सोच बनाई है, बुधवार को इसका आगाज हो गया.सीएम ने ऊर्जा विभाग के लिए खरीदी गई 20 इलेक्ट्रिक कारों को फ्लैग आफ किया.लोगों से भी इसे अपनाने का आग्रह किया.सीएम रघुवर दास ने खुद भी एक कार पर बैठकर इलेक्ट्रिक कार की सवारी का आनंद उठाया. सरकार का दावा है कि झारखंड को ग्रीन बनाए रखने की सरकार के स्तर से प्रयास हो रहा है. ऊर्जा विभाग ने इन कारों को अपने अधिकारियों के उपयोग के लिए खरीदा है. सीएम ने अपने संबोधन में कहा कि आज प्रदूषण रहित पर्यावरण के लिए ऐसे उपाय और उपयोग जरूरी हैं.

इलेक्ट्रिक कार को रांची के शहरी क्षेत्र के लिए उपयुक्त माना जा रहा है.ऊर्जा विभाग ने कुल 50 कारों का ऑर्डर दे रहा है. इसके फीचर्स अच्छे हैं पर दाम थोड़ा अधिक हैं.सेडान सेटअप की यह कार है.इस समारोह में ईएसएसएल और झारखंड बिजली वितरण निगम के बीच समझौता हुआ.ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव ने कहा कि यह कार एक बड़े मकसद को पूरा करेगी.इसे और विभाग भी खरीद सकते हैं.केंद्र का ई-मोबिलिटी कॉन्सेप्ट के तहत देश भर में इलेक्ट्रिक विह्कल का उपयोग तेजी से करने का प्लान है.

भविष्य में लगभग एक हजार कारें सरकारी विभागों के लिए खरीदी जाएंगी.जगह-जगह पर इनके लिए चार्जिंग प्वाइंट बनाने की आवश्यकता होगी .इसके लिए पेट्रोलियम मंत्रालय के साथ बातचीत होगी.अभी इन कारों को टाटा कंपनी से खरीदा गया है.अधिक संख्या में ऑर्डर पर इसकी कीमत घटने की संभावना है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर