लाइव टीवी

खून के चलते रुका हुआ था मरीज का इलाज, स्वास्थ्य मंत्री ने अपना खून देकर शुरू करवाया
Ranchi News in Hindi

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: February 14, 2020, 5:57 PM IST
खून के चलते रुका हुआ था मरीज का इलाज, स्वास्थ्य मंत्री ने अपना खून देकर शुरू करवाया
स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने अपना खून देकर मरीज का इलाज शुरू करवाया

पति रामविनय शर्मा ने बताया कि जब वह ब्लड बैंक से खून लेने गए थे, तो उन्हें कहा गया कि खून लेने के बदले डोनेट करना होता है. चूंकि वह बुजुर्ग हैं, इसलिए खुद खून डोनेट नहीं कर पाए. कई लोगों से मदद की अपील की, लेकिन किसी ने मदद नहीं की.

  • Share this:
रांची. ब्लड (Blood) का इंतजाम नहीं होने के कारण एक मरीज (Patient) का पिछले 9 दिनों से इलाज रुका हुआ था. जब इस बात का पता स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता (Banna Gupta) को चला, तो उन्होंने अपना खून देकर महिला का इलाज शुरू करवाया. दरअसल गुरुवार रात को स्वास्थ्य मंत्री औचक निरीक्षण पर रिम्स (RIMS) पहुंचे थे. इस दौरान ऑर्थो वार्ड में उन्हें शीला देवी मिलीं. शीला के पति रामविनय ने अपनी परेशानी स्वास्थ्य मंत्री को बताई, इसके बाद स्वास्थ्य मंत्री ने खुद ब्लड डोनेट कर उन्हें खून दिलवाया. तब शीला का इलाज शुरू हुआ.

पति रामविनय शर्मा ने बताया कि जब वह ब्लड बैंक से खून लेने गये थे, तो उन्हें कहा गया कि खून लेने के बदले डोनेट करना होता है. चूंकि वह बुजुर्ग हैं, इसलिए खुद खून डोनेट नहीं कर पाए. कई लोगों से मदद की अपील की, लेकिन किसी ने मदद नहीं की.

स्वास्थ्य मंत्री ने ब्लड बैंक जाकर दिया ब्लड
गुरुवार रात स्वास्थ्य मंत्री ने रामविनय के साथ ब्लड बैंक जाकर ब्लड डोनेट किया. इसके बदले में रामविनय को खून मिला और तब पत्नी शीला देवी का इलाज शुरू हुआ. रिम्स में ही 15 हजार रुपए के चलते जमशेदपुर की 67 वर्षीय महिला मानोषी भुई का इलाज रुका हुआ था. स्वास्थ्य मंत्री ने उनका फ्री में इलाज करने का निर्देश दिया.

इलाज शुरू होने के बाद बन्ना गुप्ता ने शीला देवी से कहा,'चिंता करने की जरूरत नहीं है, तुम्हारा बड़ा भाई स्वास्थ्य मंत्री है.'
इलाज शुरू होने के बाद बन्ना गुप्ता ने शीला देवी से कहा,'चिंता करने की जरूरत नहीं है, तुम्हारा बड़ा भाई स्वास्थ्य मंत्री है.'


रिम्स में रोजाना 50 लोग रक्तदान करते हैं. रोजाना 120 से 130 यूनिट खून की खपत इमरजेंसी और थैलीसिमिया के मरीजों के लिए होती है. स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों से ब्लड डोनेट करने की अपील की. उन्होंने इमरजेंसी, ऑर्थो और न्यूरो सर्जन वार्ड का जायजा भी लिया.

ये भी पढ़ें- दो बेटियों के हत्यारे पिता ने जेल में की खुदकुशी की कोशिश, गले और हाथों के नस काटे 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 4:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर