लाइव टीवी

झारखंड चुनाव: स्वास्थ्य मंत्रियों को कभी नहीं मिली जीत,19 साल से मिथक बरकरार

News18 Jharkhand
Updated: November 18, 2019, 5:54 PM IST
झारखंड चुनाव: स्वास्थ्य मंत्रियों को कभी नहीं मिली जीत,19 साल से मिथक बरकरार
वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी बिश्रामपुर सीट से मैदान में हैं. (फाइल फोटो)

बात चाहे पहले स्वास्थ्य मंत्री दिनेश षाडंगी की करें या फिर भानु प्रताप शाही, हेमेन्द्र प्रताप देहाती, बैद्यनाथ राम, हेमलाल मुर्मू और राजेन्द्र प्रसाद सिंह की, सभी के सभी स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) रहते हुए विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) हारे

  • Share this:
रांची. झारखंड में स्वास्थ्य मंत्रियों (Health Ministers) को लेकर विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) का रोचक इतिहास रहा है. स्वास्थ्य मंत्रियों को अगले चुनाव में कभी जीत नहीं मिली. जनता ने उनके सियासी स्वास्थ को खराब किया है. सूबे के पहले स्वास्थ्य मंत्री दिनेश षाड़ंगी से लेकर राजेन्द्र प्रसाद सिंह तक की बात करें, तो अगली बार इनमें से कोई चुनाव जीतकर विधानसभा नहीं पहुंचे. वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी (Ramchandra Chandravanshi) बिश्रामपुर सीट से मैदान में हैं. हालांकि उनका दावा है कि इस बार 19 साल का ये मिथक टूटकर रहेगा.

पलामू जिले में पड़ने वाली बिश्रामपुर विधानसभा सीट पर इस बार स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी को कांग्रेस के चंद्रशेखर दुबे टक्कर दे रहे हैं. दोनों पहले भी यहां के विधायक रहे हैं और दिग्गज नेता हैं. ऐसे में यह सीट हॉट सीट बनी हुई है. इस बार बिश्रामपुर की जनता स्वास्थ्य मंत्रियों से जुड़े इस मिथक को तय करने वाले हैं. हालांकि अबतक के स्वास्थ्य मंत्रियों को तो उनके क्षेत्र की जनता ने मौका नहीं दिया.

बात चाहे पहले स्वास्थ्य मंत्री दिनेश षाडंगी की करें या फिर भानु प्रताप शाही, हेमेन्द्र प्रताप देहाती, बैद्यनाथ राम, हेमलाल मुर्मू और राजेन्द्र प्रसाद सिंह की, सभी के सभी स्वास्थ्य मंत्री रहते हुए विधानसभा चुनाव हारे. झारखंड की राजनीति को गहराई से समझने वाले पत्रकार प्रदीप कुमार सिंह कहते हैं कि इस मिथक के पीछे जनता का गुस्सा और नाराजगी साफ जाहिर होती है. चूंकि स्वास्थ्य विभाग आम लोगों से सीधा जुड़े होता है.

राजद प्रदेश अध्यक्ष अभय कुमार सिंह का कहना है कि स्वास्थ्य मंत्री जनता की बजाय अपने स्वास्थ पर ज्यादा ध्यान देने लगते हैं. इसलिए मौका मिलने पर जनता उनका स्वास्थ खराब कर देती है.

हालांकि वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का दावा है कि इस बार जनता उन्हें जरूर जीत का तोहफा देगी. और स्वास्थ्य मंत्रियों से जुड़ा हार का मिथक टूटेगा.

इस बार फिर तीन पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बैद्यनाथ राम, भानु प्रताप शाही और राजेन्द्र प्रसाद सिंह मैदान में हैं. हालांकि सबकी नजर वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी की सीट बिश्रामपुर पर टिकी हुई है.

(रिपोर्ट- शैलेश कुमार, उपेन्द्र कुमार)
Loading...

ये भी पढ़ें- झारखंड विधानसभा चुनाव: पीएम मोदी 26 नवंबर से शुरू करेंगे प्रचार अभियान!

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2019, 5:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...