Ranchi News: हीट वेव से मिलेगी राहत, आज से 3 डिग्री तक नीचे आ सकता है तापमान

होली के बाद से झारखंड के कई जिलों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस ऊपर चल रहा है.

होली के बाद से झारखंड के कई जिलों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस ऊपर चल रहा है.

Heat Wave in Jharkhand: झारखंड में 1 अप्रैल को तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज होने का अनुमान है. यही नहीं, इस दौरान हीट वेव से भी राहत मिलेगी.

  • Share this:
रांची. होली के अगले दिन से ही राजधानी रांची (Ranchi) सहित कई जिले हीट वेव (Heat Wave) के प्रभाव में हैं. 31 मार्च को भी रांची, डाल्टेनगंज, चतरा, गढ़वा, जमशेदपुर, बोकारो और चाईबासा जैसे जिलों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहा. हालांकि राहत वाली बात यह है कि मौसम केन्द्र ने अपने पुर्वानुमान में 1 अप्रैल से हीट वेव से राहत और कमी होने की बात कही है.

झारखंड में इन दिनों तेज गर्म हवा से लोगों को गर्मी का अहसास ज्यादा हो रहा है. हीट वेव के चलते आज राज्य के उत्तरी पश्चिमी , दक्षिणी पूर्वी और मध्य झारखंड के कई जिलों में हीट वेव के चलते तापमान 42 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहा है. राज्य में सबसे अधिक तापमान 42.9 डिग्री सेल्सियस जमशेदपुर का रिकॉर्ड किया गया. वहीं, रांची में भी तापमान 39.2 डिग्री सेल्सियस रहा. तेज गर्मी से बचने के लिए लोग गन्ना का जूस पीते दिखे. बिरसा चौक पर अपने दोस्तों के साथ गन्ने का जूस पी रहे मो. खलील ने कहा कि राजधानी में अप्रैल महीने में इतनी गर्मी नहीं होती थी अभी तो यहां बिहार जैसी लू चल रही है जिससे बचने के लिए वह गन्ना का रस पी रहे हैं.

तापमान में होगी कमी,अगले पांच दिन मौसम रहेगा शुष्क

मौसम केन्द्र रांची के मौसम पुर्वानुमान वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने न्‍यूज़ 18 से कहा कि पिछले 24 घंटे में कई जिलों काअधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर रहा है. उन्होंने उम्मीद जताई कि कल से तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की कमी होगी और हीट वेव से राहत मिलेगी.
इन जिलों में रहा 40 डिग्री सेल्सियस के अधिक तापमान

झारखंड के कई जिलों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया, जिसमें जमशेदपुर (42.9 डिग्री सेल्सियस), बोकारो (40.1 डिग्री सेल्सियस), डाल्टेनगंज ( 42.2 डिग्री सेल्सियस), चाईबासा ( 40.8 डिग्री सेल्सियस) आदि प्रमुख रूप से शामिल हैं.

मौसम केन्द्र के अनुसार अगले पांच दिन तक मौसम शुष्क रहेगा. वहीं, राहत वाली बात यह है कि अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की कमी के चलते लोगों को गर्मी से राहत मिलने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज