Corona के खिलाफ हेमंत सरकार का मेगा अभियान, 18 जून से घर-घर होगी कोरोना जांच

स्वास्थ्य विभाग ने 18 जून से राज्य में कोरोना मेगा सर्वेक्षण कार्यक्रम की शुरुआत करने का फैसला किया है. (सांकेतिक फोटो)
स्वास्थ्य विभाग ने 18 जून से राज्य में कोरोना मेगा सर्वेक्षण कार्यक्रम की शुरुआत करने का फैसला किया है. (सांकेतिक फोटो)

झारखण्ड (Jharkhand) में 1700 से ज्यादा Corona पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य विभाग का आकलन है कि अगर इसी रफ्तार से मरीजों की संख्या बढ़ती रही तो अगले 15 दिन में 5000 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव हो जाएंगे.

  • Share this:
रांची. झारखंड में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामले के बीच अब प्रदेश में 18 जून से मेगा स्वास्थ्य सर्वेक्षण (Health survey) अभियान की शुरुआत होगी, जिसमें स्वास्थ्य कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग करेंगे. साथ ही साथ उन बीमारियों से ग्रसित लोगों का डाटा तैयार किया जाएगा जिनको कोविड-19 का खतरा ज्यादा है. दरअसल,  झारखण्ड (Jharkhand) में कोरोना के 1700 से ज्यादा पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. वहीं, स्वास्थ्य विभाग का आकलन है कि अगर इसी रफ्तार से कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ती रही तो अगले 15 दिन में 5000 से ज्यादा संख्या कोरोना पॉजिटिव की होगी.

यही वजह है कि स्वास्थ्य विभाग ने 18 जून से राज्य में कोरोना मेगा सर्वेक्षण कार्यक्रम की शुरुआत करने का फैसला किया है, ताकि कोरोना के बढ़ते मामले पर लगाम लगाया जा सके. इस कार्यक्रम के तहत सेविका, सहायिका और उनके साथ-साथ नर्सें भी घर-घर तक जाएंगी और सभी का डेटा तैयार करेगीं.

सचिव ने कल चिंता बढ़ाने वाली बात कही थी



बता दें कि झारखंड में कोरोना की तेज रफ्तार को लेकर स्वास्थ्य सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने कल चिंता बढ़ाने वाली बात कही थी. स्वास्थ्य सचिव ने कोरोना को लेकर संयुक्त पीसी में एक सवाल के जवाब में कहा था कि अगर इसी रफ्तार से कोरोना पॉजिटिव (Covid Patients) की संख्या बढ़ी, तो अगले 15 दिन में राज्य में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 5050 के करीब होगी. स्वास्थ्य विभाग का यह आकलन अगर सही हुआ, तो 15 दिनों में यह सबसे बड़ी बढ़ोतरी होगी.
अब तक 6 लाख 89 हजार प्रवासी लौटे राज्य

वहीं, सोमवार को प्रोजेक्ट भवन सभागार में स्वास्थ्य विभाग, आपदा विभाग और परिवहन विभाग की कोरोना को लेकर की गई संयुक्त पीसी में आपदा सचिव अमिताभ कौशल ने कहा था कि लॉकडाउन में अबतक 6 लाख 89 हजार 874 प्रवासी झारखण्ड लौटे हैं. राज्य में 238 श्रमिक ट्रेन से 3 लाख 10 हज़ार 340 श्रमिक लौटे, वहीं बस से 01 लाख 852 श्रमिक आए हैं. हवाई जहाज से लौटने वाले प्रवासियों की संख्या 1165 है. कोरोना मूवमेंट के नोडल अधिकारी एपी सिंह ने बताया कि विदेशों से अबतक 390 प्रवासी झारखण्ड लौटे हैं. 16 जून को भूटान से 17 और 17 जून को बांग्लादेश से 76 श्रमिक राज्य लौटेंगे.

 

ये भी पढ़ें- 

तलाकशुदा महिला को शादी का झांसा देकर चार साल तक रेप करता रहा हेडकांस्टेबल

Weather Update: हरियाणा में 48 घंटे रहेंगे भारी, आंधी और वज्रपात की चेतावनी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज